मोदी का मास्टरप्लान, छोटे से टापू पर बहा देंगे पूरे 75 हजार करोड़ रूपये

0
8

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने एक बड़े और लम्बे विजन के लिए जाने जाते है. उनके केबिनेट में बहुत से ऐसे अधिकारी और नेता है जो अपने अपने तरीके से देश के विकास के लिए काम कर रहे है और आगे भी बढ़ रहे है. अगर हम लोग अभी की बात करे तो फिलहाल के लिये प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने एक बड़े प्लान के ऊपर काम कर रहे है जहाँ पर वो देश के सबसे दक्षिण में स्थित छोर को एकदम शानदार तरीके से विकसित करने की बात कर रहे है और इसमें अच्छा ख़ासा पैसा लगने वाला है ये भी तय है.

ग्रेट निकोबार आईलैंड को विकसित करेगी सरकार, होगा 75 हजार करोड़ का निवेश
अंडमान एवं निकोबार द्वीप समूह भारत के केंद्र शासित प्रदेश कहे जाते है. यहाँ के दक्षिणी हिस्से को कहा जाता है ग्रेट निकोबार. ये भारत का एक दक्षिणी छोर कहा जा सकता है और इस जगह पर सरकार 75 हजार करोड़ रूपये का निवेश करने का प्लान बना रही है जिसके तहत यहाँ इंटरनेशनल टर्मिनल, एयरपोर्ट, पॉवरप्लांट और टाउनशिप आदि विकसित किये जायेंगे. इसके जरिये इस क्षेत्र की इकॉनमी को पहले से कई गुना बढ़ा दिया जाएगा.

वर्तमान में यहाँ की आबादी मुश्किल से 8 हजार है और सरकार चाह रही है ये सारा पैसा बहाकर के इस क्षेत्र की जनसँख्या को 6 से 8 लाख तक बढ़ा दिया जाए और ये भारत के एक बड़े मिलिट्री हब के साथ में टूरिस्ट हब के रूप में भी विकसित किया जाएगा जो भारत के लिए आज की तारीख में एक बड़ी जरूरत भी बन चुका है इसमें कोई भी शक नही है.

निकोबार के जरिये इंडो पेसिफिक में अपनी मजबूती बना सकता है भारत
निकोबार के जरिये भारतीय नौसना स्ट्रेट ऑफ मलक्का के काफी नजदीक पहुँच जाती है और स्वेज नहर के रूट के पास में भी भारत की एक महत्त्वपूर्ण भूमिका हो जाती है जिससे आने वाले वक्त में विश्व का आधे से अधिक अंतर्राष्ट्रीय व्यापार भारतीय नौसेना द्वारा सुरक्षित क्षेत्र से होकर के गुजरेगा ये माना जा रहा है.

कही न कही इससे चीन और पाक जैसे देश समझ सकते है कि कल को विपरीत परिस्थित्ति में भारत चाहे तो किसी का भी व्यापार अपनी इस महत्त्वपूर्ण स्थिति का फायदा उठाकर के बाधित भी कर सकता है और उस देश को कई बिलियन डॉलर का नुकसान पहुंचा सकता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here