शाहरुख 5 सालो से अंकिता के पीछे पड़ा, फिर भी नही मानी तो पेट्रोल डालकर जला

0
20

अभी के दिनों में अच्छे  घर से आने वाली लडकियों के जीवन में काफी अधिक  दूभर होता जा रहा है क्योंकि आये दिन उन्हें  कई बदमाश और आवारा लडको से जूझना पड़ता है. स्कूल से लेकर आस पड़ोस तक कई जगहों पर इस तरह की चीजे और केस देखने में आती रहती है और अभी हाल ही में झारखंड में भी ऐसा ही कुछ अंकिता नाम की एक मासूम लड़की के साथ में भी हुआ जिसे एक शाहरुख नाम के लडके को मना करने की इतनी बड़ी कीमत चुकानी पड़ी जिसके कारण से उनका पूरा घर ही टूट और बिखर गया है.

सालो से अंकिता का पीछा करता था, घर में घुस जाता था शाहरुख नाम का युवक
17 साल की अंकिता का कई सालो से पीछा कर रहा था. वो स्कूल या फिर ट्यूशन जाती थी तो वो उसके पीछे चला जाता था और उसके साथ में छेड़ छाड़  करता था. उसने उसके साथ में दोस्ती करने का दबाव भी बनाया लेकिन अंकिता ने साफ़ इनकार कर दिया जिसके बाद में वो चुपके से उसके घर में भी घुस गया. मगर घर वालों ने उसे पकड़ लिया जिसके बाद में धुनाई करके उसे वहाँ से भगा दिया गया.

बार बार मना करने पर, ऊपर डाल दिया पेट्रोल
शाहरुख ने अंकिता के ऊपर ज्यादा ही दबाव बनाना शुरू कर दिया तो वो उससे दूर भागने लगी. जिसके बाद में हुसैन ने नाराजगी में एक दिन पहले उसे इसकी सजा देने की बात कही और अगले ही दिन वो उसके घर की खिड़की पर पहुँच गया. वहां पर उसने उसके ऊपर पेट्रोल फेंका और फायर लगा दी. इसके कारण से उसकी हालत पूर्ण रूप से खराब हो गयी और बच्ची को अस्पताल ले जाया गया लेकिन वो बच नही सकी.

हालांकि परिवार को इसके बाद में गलती का एहसास हुआ कि उन्हें पहले ही शाहरुख के खिलाफ केस दर्ज करवा देना चाहिए था जिसके बाद में उन्होंने केस दर्ज करवाया और अभी के लिए उसे अरेस्ट कर लिया गया. मीडिया रिपोर्ट्स बताती है कि उसे अपने किये का कोई पछतावा नही है और अब उसे थाने में ले जाया गया तो वो अपने किये पर शर्मिंदा होने की बजाय हँसते हुए नजर आया.

अंकिता के साथ में जो भी हुआ उसके बाद में हिन्दू समुदाय झारखंड के दुमका में सडको पर आ गया है और प्रदर्शन देखने को मिले. अभी हाल ही में संगठनों ने एक दिन के लिए शहर को भी बंद करवा दिया था जिससे कि कार्यवाही करने का दबाव बनाया जा सके.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here