ज्ञानवापी मस्जिद में मुस्लिम पक्ष का केस लड़ रहे वकील ‘अभय यादव’ का निधन

0
3748

ज्ञानवापी मस्जिद का मामला पिछले कुछ समय से लगातार सुर्खियों में रहा है. हिन्दू और मुस्लिम पक्ष दोनों ही अपना अपना दावा यहाँ पर पेश कर रहे है और जब से यहाँ पर शिवलिंग मिलने के दावे सामने आये है उसके बाद से तो लगातार कोर्ट में मामला अलग ही लेवल पर आगे बढ़ रहा है. एक पक्ष यहाँ पर फव्वारा होने की बात कर रहा है तो दूसरी तरफ हिन्दू पक्ष इसे शिवलिंग बता रहा है, जिस पर वाराणसी कोर्ट में सुनवाई चल रही है. इसमें मुस्लिम पक्ष अभय यादव रख रहे थे.

अभय यादव को पड़ा दिल का दौरा, अचानक हुआ निधन
उत्तर प्रदेश के जाने माने वकील अभय यादव को अभी हाल ही में दिल का दौरा पड़ा जिसके चलते वो चल बसे. अभय यादव को घटना का मालूम चलते ही वाराणसी के ही एक अस्पताल में भर्ती करवाया गया था लेकिन उनको बचाया नही जा सका. आपको बता दे बहुत ही कम वकील थे जो मुस्लिम पक्ष का केस लेने को तैयार हो रहे थे लेकिन अभय यादव ने केस लिया और वो उनका पक्ष रख रहे थे.

इस 4 अगस्त को इस मामले की सुनवाई की अगली तारीख थी जिसमे अभय यादव की तरफ से भी अपनी कुछ दलीले रखी जानी थी ताकि मुस्लिम पक्ष का दावा मजबूत किया जा सके मगर चूंकि अब वो जीवित ही नही है तो जाहिर तौर पर काफी कुछ चीजे बदल जायेगी और संभवतः उनके स्थान पर किसी नए वकील को लाना होगा.

सर्वे के दौरान शिवलिंग मिलने के दावे से बढ़ गया था विवाद
बहुत लम्बे समय से हिन्दू पक्ष ये मांग करता आ रहा था कि ज्ञानवापी के ढाँचे की जांच हो सर्वे हो इसमें कुछ न कुछ जरुर मिलेगा और इसके बाद में जब कोर्ट के आदेश पर एएसआई ने सर्वे किया तो विडियोग्राफी में तहखाने जैसी जगह पर एक शिवलिंग मिलने का दावा किया गया. हालांकि मुस्लिम पक्ष इसे बार बार एक फव्वारा बताकर के नकार रहा है.

ऐसे में दोनों ही पक्षों की तरफ से वाराणसी कोर्ट में अपनी अपनी दलीले रखी जा रही है और मामला सुना भी जा रहा है. कही न कही इससे ये तो मालूम चल ही जाता है कि जो कुछ भी हुआ है वो अपने आप में बहुत ही अधिक पेचीदा है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here