ओवैसी ने कहा मुस्लिमो को देश में बना दिया सेकेण्ड क्लास नागरिक, अखिलेश ने दिया..

0
1408

एएमआईएम के प्रमुख और हैदराबाद के सांसद असुसुद्दीन ओवैसी इन दिनों में फिर से अपने एक बयानों को लेकर के चर्चा में आये है जिसमे वो भारत में दिन ब दिन मुस्लिमो की बिगडती स्थिति के दावे करते हुए अपनी तरफ से बयान और आंकड़े पेश करते रहते है. हालांकि इनमे कई बार तथ्यात्मक चूके भी देखने में आती रही है और इस कारण से लोग उन पर सवाल खड़े कर देते है. अभी हाल ही में उन्होंने फिर से ऐसा ही कुछ बयान दिया है. इसके कारण से कई लोग चकित भी है.

मुस्लिम देश में सेकेण्ड क्लास सिटीजन होने का दावा, अखिलेश ने दिया धोखा
अभी हाल ही में अपने एक ट्वीट में ओवैसी ने कहा कि वो सरकार जो सबका साथ सबका विकास करने के दावे करती है उसने 32 लाख लोगो को भारत सरकार स्वनिधि योजना के तहत लोन बांटे है और उसमे से सिर्फ 331 अल्पसंख्यको को ही ये लोन मिला जो एकदम ही कम है. ओवैसी इसके बाद में यही पर ही नही रूकते है.

उन्होंने आगे के बयान में कहा कि मुस्लिम बहुत ही बड़ी संख्या में असंगठित क्षेत्र में काम करते है मगर मोदी और शाह गोलवलकर की सोच को आगे बढ़ा रहे है व मुसलमानों को दुसरे दोयम दर्जे का नागरिक बना रहे है. ओवैसी ने मुस्लिमो के लिए काम करने वाले नेताओं जैसे अखिलेश और ओपी राजभर को भी धोखा देने वाला नेता करार दे दिया.

भाजपा की तरफ से कोई जवाब नही
जिस तरह के आरोप ओवैसी ने भाजपा पर लगाये है कि इनकी सरकार पूरी तरह से मुस्लिमो की अनदेखी कर रही है और हिन्दू धर्म से जुड़े लोगो को अधिक प्रोत्साहित कर रही है उसका अभी तक सरकार की तरफ से या फिर भाजपा की तरफ से कोई भी ठोस जवाब देखने को नही आया है. कही न कही ये बात साफ़ तौर पर देखी भी जा सकती है.

खैर ओवैसी हर बार एक धर्म विशेष के नेता के तौर पर ही जाने जाते रहे है और कही न कही इस कारण से वो लगातार खबरों में बने रहते है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here