कन्हैया कुमार केस में राजस्थान की गहलोत सरकार ने एक दिल खुश करने वाला काम किया है

0
1446

आज से लगभग एक माह पूर्व उदयपुर के रहने वाले कन्हैया कुमार नाम के दर्जी की कुछ लोगो ने मिलकर के जान ले ली थी और उस मामले में अभी भी कार्यवाही चल ही रही है. ये अपने आप में उनके परिवार के लिए और हिन्दू धर्म से जुड़े हुए लोगो के लिए चिंता का विषय बन गया कि किस तरह से स्थिति उनके हाथ से निकलती चली गयी और अब उनकी जान पर बन आयी है. अब इसमें जाहिर तौर पर सरकार से लोगो को काफी सारी उम्मीदे होती है.

राजस्थान सरकार ने दी कन्हैया के दोनों बेटो को नौकरी, एक महीने के भीतर किया ज्वाइन
अभी हाल ही में गहलोत सरकार ने कन्हैया कुमार के परिवार के दोनों ही बेटो जिनमे से बड़े बेटे का नाम तरुण और छोटे बेटे का नाम यश है दोनों को ही सरकारी नौकरी दी गयी है. दोनों ही भाई राजस्थान सरकार में कनिष्ठ सहायक के पद पर पोस्टिंग प्राप्त कर चुके है और हाल ही में  बड़े बेटे ने तो जोइनिंग भी कर ली है.

कन्हैया कुमार के गुजर जाने के बाद में उनेक परिवार को लेकर के चिंता का विषय था कि वो घर में अकेले ही कमाने वाले थे और ऐसे में उनके बाद में उनके परिवार के लोगो को गुजारा कैसे होगा? क्योंकि बेटे तो अभी बस पढ़ाई ही कर रहे थे और ऐसे में सरकारी नौकरी का मिल जाना अपने आप में राहत की खबर है.

आर्थिक मदद भी मिल रही
कन्हैया कुमार के परिवार के साथ में जो कुछ भी हुआ है उसके चलते हुए काफी बड़ी संख्या में उन्हें आर्थिक मदद भी मिल रही है. जहाँ एक तरफ सरकार की तरफ से उन्हें 31 लाख की मदद मिली है और भाजपा के प्रसिद्द नेता कपिल मिश्रा ने भी उनके परिवार को डेढ़ करोड़ के करीब की मदद कर दी है जिसके चलते उनके परिवार का गुजारा आगे भी चलता रहेगा.

कही न कही ये एक ऐसी स्थिति है जिसमे कोई भी परिवार अन्दर से टूट सा जाता है और ये बात हम भी बखूबी जानते है. अब इस स्थिति में इस तरह से मदद मिल जाने से परिवार को कुछ हद तक संबल तो मिल ही जाता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here