दुःख में डूबा सपा का यादव परिवार, परिवार को जोड़ने वाली मुख्य कड़ी का हो गया निधन

0
3085

समाजवादी पार्टी को काफी अधिक मजबूत करने और कायम रखने का श्रेय कही न कही मुलायम सिंह यादव के परिवार को दिया जाता रहा है और हर कोई बहुत ही अधिक अच्छे से जानता है कि सपा के लोगो में उनके प्रति वफादारी काफी अधिक है. खैर जो भी है अभी हम बात कर रहे है उसी परिवार की जो काफी अधिक शोक में डूबा हुआ है और उसे उस मोड़ से वापिस लाना बहुत ही अधिक मुश्किल हो रहा है क्योंकि अखिलेश से लेकर डिम्पल यादव तक सभी बेहद दुःख में डूबे हुए है.

मुलायम सिंह की पत्नी साधना गुप्ता का निधन
अभी मिली जानकारी के अनुसार इस शनिवार की दोपहर को मुलायम सिंह यादव की धर्मपत्नी और अखिलेश यादव की सौतेली माता साधना गुप्ता का निधन हो गया है. साधना गुप्ता के फेफड़ो में संक्रमण हो गया था जिसके चलते हुए उनका शरीर पूरी तरह से कमजोर हो गया था और इसके बाद में उन्हें गुरुग्राम के मेदान्ता अस्पताल में भर्ती करवाया गया था जहाँ पर देश के टॉप डॉक्टर्स इलाज करते है.

मगर स्थिति इतनी अधिक बिगड़ चुकी थी कि उन्हें बचाया नही जा सका और हाल ही में उनके निधन की खबर बाहर आयी है. आपको मालूम हो तो साधना गुप्ता प्रतीक यादव की माँ थी और भाजपा में शामिल हो चुकी अपर्णा यादव सिंह की सास थी.

पहले पत्नी के गुजरने के बाद बनाया था दूसरी बीवी, 20 साल उम्र का फासला
सपा के संरक्षक मुलायम सिंह यादव की पहली पत्नी का नाम मालती देवी था और उनके ही बेटे का नाम अखिलेश यादव हुआ लेकिन उनका निधन काफी समय पहले ही हो गया था जिसके बाद में मुलायम के जीवन में साधना गुप्ता आयी जिनकी उम्र उनसे 20 साल कम थी लेकिन ये सब कभी भी इनके वैवाहिक जीवन के आड़े नही आया और सब यूँही चलता रहा.

साधना गुप्ता यूपी के ईटावा जिले की रहने वाली थी और इनकी पहली शादी चन्द्रप्रकाश गुप्ता के साथ में हुई थी. इनका विवाह महज दो वर्ष ही चला और इसी दौरान इनके पुत्र प्रतीक का भी जन्म हुआ था. हालांकि इसके बाद में ये मुलायम सिंह के संपर्क में आयी थी और फिर ये रिश्ता आगे बढ़ता चला गया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here