अखिलेश पर बुरी तरह नाराज है योगी, कह दी इतनी बड़ी बात

0
779

अभी उत्तर प्रदेश की राजनीति चुनावों के बाद में एक बार फिर से गरम है और इसके पीछे का सबसे बड़ा कारण है इन दिनों में पेश हो रहा यूपी का बजट और चल रहा विधानसभा का सत्र जिसे लेकर के दोनों ही यूपी की बड़ी पार्टियाँ यानी भाजपा व विपक्ष में बैठी हुई समाजवादी पार्टी आमने सामने आ गयी है. सदन में दोनों ही एक दुसरे के ऊपर तंज कसते हुए और कई बार गर्म होते हुए भी देखे जा सकते है और हाल ही में तो मुख्यमंत्री जी की नाराजगी कुछ ज्यादा ही देखने को मिली.

आप जाकर लोहिया जी को पढ़े, सदन का भाषण भी चुनावो जैसा
जिस तरह से अखिलेश यादव ने पिछले कुछ दिनों में सदन में बाते कही है उस पर काफी नाखुशी जाहिर करते हुए योगी जी ने कहा कि आपको एक बार लोहिया जी को पढ़ना चाहिए. आज उनका सिद्धांत पूरी तरह से अमानवीय और अप्राकृतिक बन चुका है. प्रदेश तो पूरा राम राज का प्रतीक बन ही गया है और ये हम लोगो की शक्ति है. आप तो कल भाषण दे रहे थे तो ऐसा लगा जैसे चुनावी भाषण हो.

आगे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शायरी के साथ में अखिलेश पर निशाना साधा और बोले नजर नही है और नजारों की बात करते है, हाथ जोड़कर बस्ती लूटने वाले सुधारों की बात करते है. जब ये बात योगी जी ने कही तो सपा वाले नाराजगी से बोलने लगे वही भाजपा के लोग सपोर्ट में बोलने लग गये.

अखिलेश बोले, ये सिर्फ ध्यान भटका रहे
अब इस तरह का वाद विवाद चल रहा है तो जाहिर सी बात है कि अखिलेश भी कुछ तो बोलेंगे ही और वो कहते है कि ये लोग सिर्फ जनता का ध्यान भटका रहे है, कितने घोटाले हुए है इसका जवाब इन लोगो के पास में तो है ही नही.

आपको मालूम हो तो अभी हाल ही में इसी सदन में केशव प्रसाद मौर्य और अखिलेश के बीच में भी कहासुनी हो गयी थी जब मौर्य ने ये कह दिया कि किसी के पिताजी के पैसे से कार्य नही हुआ सरकारी पैसा था और जवाब में अखिलेश ने कह दिया ये काम जो आप कर रहे है वो भी आपके पिताजी नही लाये थे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here