ज्ञानवापी मस्जिद मामला: कोर्ट द्वारा नियुक्त टीम ने किये बड़े खुलासे, मुस्लिम पक्ष पर गंभीर आरोप

0
5340

अभी वर्तमान के दिनों में जिस तरह से ज्ञानवापी मस्जिद के मामले ने लोगो का ध्यान अपनी तरफ खींचा है वो अपने आप में बहुत ही अधिक ख़ास है. हर पक्ष इसके ऊपर अपना दावा जता रहा है और सबूत पेश कर रहा है मगर आखिर में जिसके पास में सत्य होता है उसका पलड़ा भारी होता चला जाता है. अगर हम अभी की बात करे तो फिलहाल इस केस की महज शुरुआत भर मानी जा रही है और वाराणसी का ही कोर्ट इस पूरे मामले में सुनवाई आदि कर रहा है.

टीम ने सौंपी रिपोर्ट, हिन्दू अवशेष होने संकेत
वाराणसी कोर्ट ने एक सर्वे टीम का गठन किया था जिसका कार्य था ज्ञानवापी मस्जिद के बाहर और भीतर तक जाकर के उससे जुड़े हुए साक्ष्यो को देखना, परखना और विडियो ग्राफी करने के पश्चात जो भी निष्कर्ष निकलता है उसे स्पष्टता के साथ में कोर्ट के सामने पेश करना. इस रिपोर्ट में कहा गया है कि वाकई में मस्जिद के क्षेत्र में हिन्दू अवशेष मिले है जिससे इसके मंदिर होने के संकेत नजर आते है.

अभी जो जानकारी सामने आयी है उसके अनुसार कई हिन्दू धर्म से जुडी हुई कलाकृतियाँ भी अन्दर बनी हुई मिली है और ये दीवारों पर बनी नजर आती है. इससे कही न कही सवाल खड़े हो जाते है कि ये मस्जिद होने से पहले कही हिन्दू धर्म से जुडा हुआ स्थान तो नही था?

मुस्लिम पक्ष पर आरोप, सहयोग नही किया
वही इसी रिपोर्ट को बनाने वाली टीम की तरफ से जिला प्रशासन पर पहले तो आरोप लगाया कि जितने सहयोग की अपेक्षा उन्होंने की थी उस हिसाब से उन्हें सहायता नही उपलब्ध करवायी गयी वही मुस्लिम पक्ष पर भी इसी टीम ने सहयोग नही करने का आरोप लगाया है. इसी के साथ में अब जल्द ही ये कोर्ट के सामने तथ्य रखे जाने वाले है.

कही न कही ये पूरा मामला जिस तरह से घूमता जा रहा है उसके बाद में राष्ट्रीय स्तर पर बहस छिड़ गयी है और लोग इसको लेकर के काफी अधिक रोचक तरीके से इसमें रुचि भी लेते हुए नजर आ रहे है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here