ज्ञानवापी मस्जिद मामले में ओवैसी ने दिया भाजपा और हिन्दू संगठनों को सन्देश

0
1495

अभी इन दिनों में जिस तरह से ज्ञानवापी मस्जिद को लेकर के दोनों ही पक्ष एक दुसरे के आमने सामने खड़े हुए नजर आ रहे है वो कही न कही लोगो के दिलो दिमाग में सवाल तो खड़े करता ही है और ये बात हम लोग भी बहुत ही अधिक बेहतर तरीके से जानते है कि अभी के लिये ज्ञानवापी मस्जिद का मामला कोर्ट में जा चुका है और इसको लेकर मुस्लिम नेताओं के बीच में नाराजगी काफी अधिक बढ़ चुकी है जिसकी झलक ओवैसी के हाल ही के बयान में देखने को मिल गयी है.

हमने बाबरी को खोया, दूसरी को नही खोएंगे
अब इस पूरे मामले पर हैदराबाद के सांसद और एएमआईएम के प्रमुख असुसुद्दीन ओवैसी ने बयान देते हुए कहा कि जैसे ही बाबरी मस्जिद पर कोर्ट का फैसला आया वैसे ही ये ज्ञानवापी का मसला शुरू हो गया है. मैं हुकूमत को ये बता देता हूँ कि हमने बाबरी को तो खो दिया है लेकिन दूसरी मस्जिद को हम नही खोने वाले है. ओवैसी ने इस पूरे मामले पर अपनी नाराजगी जाहिर कर दी है और ऐसा नही होने देंगे ये साफ़ तौर पर कह दिया है.

हिन्दू पक्ष ने किया है मंदिर होने का दावा
अभी काशी में मौजूद ज्ञानवापी मस्जिद को लेकर हिन्दू धर्म से जुड़े हुए पक्षकारो ने ये दावा किया है कि एक समय पहले ज्ञानवापी मस्जिद के भीतर में उसके स्थान पर मंदिर हुआ करता था जिसे कालान्तर में बदलकर मस्जिद का रूप दे दिया गया और कही न कही ये बहुत ही अधिक बुरा था.

भाजपा प्रवक्ता प्रेम शुक्ला ने दावा किया कि आज से कुछ दशक पहले तक तो यहाँ पर गौरी श्रृंगार मंदिर में अभिषेक भी होता था और सब कुछ काफी सही चल रहा था लेकिन मुलायम सरकार ने इसे दबाने का कार्य किया और अब इसकी जो बची कुची स्थिति थी उसे भी गायब कर दिया गया.

अब कोर्ट ने इसके सर्वे करने के लिए कहा था. जिसके बाद में अब कोर्ट के सामने रिपोर्ट पेश की जायेगी और आगे की जो भी कार्यवाही है वो बढ़ाई जायेगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here