घूम फिरकर तुर्की आया भारत के पास, एक हिन्दुस्तान ही बचायेगा

0
1652

आज विश्व में कई देशो के भारत के साथ में सम्बन्ध अच्छे है तो कई के सम्बन्ध खराब भी है और हर किसी के अपने अपने इस मामले में मायने है. मगर जब बात आती है सुख समृद्धि और शान्ति की तो कई जगहों पर ये चीजे पीछे छूट जाती है और लोग फायदे पर पहले ध्यान देते है. अगर हम अभी की बात करते है तो वर्तमान में तुर्की भी उसी राह पर है और आज जब दुनिया का कोई देश उसकी भूख नही मिटा पा रहा है तो वो भारत के आस में आया है.

दुनिया भर में अनाज की कमी, तुर्की भारत से चाहता है आयात
आज की तारीख में जब से रूस और यूक्रेन से अनाज की सप्लाई बाधित हो गयी है उसके बाद से ही विश्व भर में अनाज की काफी कमी है जिससे तुर्की भी काफी बड़े स्तर पर प्रभावित हुआ है ये भी हम लोग देख पा रहे है. इसके कारण से आज की तारीख में तुर्की में महंगाई तो बढ़ी ही है साथ में खाने पीने की चीजो के दाम पर भी आसमान छूने लगे है.

इसके अलावा दूसरी नकारात्मक बात ये है कि तुर्की की मुद्रा लीरा भी बुरी तरह से गिर चुकी है जिसके चलते हुए हालात कई मायनों में काफी अधिक खराब हो चले है और लोगो के पास पैसा नही बच रहा. ऐसे में आज पाक जैसे मित्रवत देश भी इनके देशो की अनाज की डिमांड पूरी नही कर पा रहे है. इस कारण से भारत से तुर्की को अभी 50 हजार टन गेहूं की जरूरत है.

विश्व में बड़े निर्यातक के रूप में उभर रहा भारत
जब से रूस से गेहूं के निर्यात में गिरावट आयी है उसके बाद से ही भारत लगातार विश्व के कई देशो को गेहूं का निर्यात करते हुए नजर आ रहा है और ये पिछले वर्षो की तुलना में रिकॉर्ड हाई स्तर पर पहुँच चुका है.

कही न कही एक बात तो यहाँ पर हम लोग भी बहुत ही अधिक अच्छे से समझ चुके है कि आज भारत न सिर्फ विश्व का सबसे बड़ा बाजार है बल्कि एक बड़े निर्यातक के रूप में भी उभर रहा है और ये बहुत ही बड़ी बात है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here