अब दिल्ली में भी चलेगा योगी मॉडल, बदलेगा राजधानी का चप्पा चप्पा

0
1085

योगी आदित्यनाथ उत्तर प्रदेश के आज की तारीख में काफी अधिक लोकप्रिय और बड़े नेता बन चुके है और ये बात हम हर जगह पर देखते आये है कि उनके द्वारा किये गये कार्य पिछले पांच से छः वर्षो में बाकी सरकारों के बीच में एक तरह की मिसाल बने है और लोग उनकी तारीफ करने से किसी भी कीमत से तो पीछे हटते ही नही है. अगर अभी की बात करे तो उनके कई मॉडल है जो दिल्ली में चलने लगे है और उसे फॉलो करने में लगी है दिल्ली भाजपा और एमसीडी.

दिल्ली में भी जगहों के नाम बदलने की तैयारी, यूपी में हुई थी बड़े स्तर पर शुरुआत
आपको मालूम हो तो यूपी में कई मुगल निशानियो के नाम बदल दिए गये जिनमे इलाहाबाद को प्रयागराज, मुगलसराय स्टेशन को दीनदयाल उपाध्याय स्टेशन जैसे नाम दिए गये और इनकी काफी अधिक शुरु में आलोचना की गयी  लेकिन समय के साथ में लोगो को इसके अच्छे व सकारात्मक प्रभाव दिखने लगे जिसके चलते हुए सब लोग इनकी अच्छी खासी तारीफ़ करते हुए भी दिखाई दिए.

अब इसी को देखते हुए दिल्ली के प्रदेश भाजपा इकाई ने राजधानी में कई मुगलों के नाम पर दिए गये क्षेत्रो और सडको के नाम बदलने के लिए एमसीडी को सिफारिश की है. इसमें शाहजहां रोड और अकबर रोड जैसे नाम शामिल है जो दिल्ली के मुख्य क्षेत्रो में है और इसके कारण से कई लोग काफी बार सवाल भी उठा चुके है कि ऐसा क्यों किया जा रहा है?

केजरीवाल सरकार की सक्षमता संदेह में
फिलहाल में दिल्ली में पॉवर में तीन अलग अलग इकाइयां है जिनमे एक दिल्ली सरकार है, दूसरी एमसीडी है और तीसरी खुद केंद्र सरकार है क्योंकि दिल्ली अपने आप में एक केंद्र शासित प्रदेश है. ऐसे में अगर नाम बदलने की प्रक्रिया में एमसीडी और केंद्र की रजामंदी होती भी है तो दिल्ली की सरकार किस हद तक इसमें कुछ बाधा उत्पन्न कर सकती है ये भी सवाल उठाने वाली बात है.

खैर अभी के लिए बुलडोजर चलाना हो या फिर नामो को बदला जाना हो सब मॉडल कही न कही यूपी सरकार में ही बड़े स्तर पर इस्तेमाल हुए और अब बाकी राज्य इसका अनुसरण करते हुए दिखाई देने लगे है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here