मोदी के रास्ते पर चले केजरीवाल, आखिरकार ले ही लिया बड़ा फैसला

0
1513

अभी के इन दिनों में अरविन्द केजरीवाल काफी तेजी के साथ में उभर रहे नेता है जिनकी अपनी अलग पहचान और पहुँच है. वर्तमान में उनकी आम आदमी पार्टी की दो राज्यों में सरकार है और कही न कही इसी कारण से वो राष्ट्रीय पटल पर खुदको अंकित करवा पाने में कामयाब भी हो गये है. खैर जो भी है अगर हम अभी के नजरिये से बात करते है तो वर्तमान में केजरीवाल की पहुँच काफी बड़ी और तगड़ी हो गयी है लेकिन पालिसी के मामले में उन्हें आज भी अपने से बड़े नेताओं को ही फोलो करना पड़ेगा.

बिजली सब्सिडी मामले में केजरीवाल ने अपनाया मोदी मॉडल, चाहे तो अपनी इच्छा से छोड़ सकते है
आपको ये तो मालूम ही होगा कि अभी सिलेंडर की सब्सिडी के मामले में मोदी सरकार ने एक नया मॉडल लागू किया था जिसमे उन्होंने ये कहा कि जो भी समृद्ध लोग है वो चाहे तो अपनी इच्छा से गैस सिलेंडर की सब्सिडी को छोड़ सकते है और बाजार की कीमत पर खरीद सकते है, इससे बचने वाला पैसा सीधे तौर पर आम लोगो के लिए इस्तेमाल में लाया जाएगा.

कई लोग इसके आलोचक भी रहे लेकिन दिल्ली में केजरीवाल वही मॉडल लागू करने की कोशिश कर रहे है. उन्होंने हाल ही में बिजली फ्री वाले ऑप्शन यानी सब्सिडी को वैकल्पिक बना दिया है. वो लोग जो समृद्ध है और जिन्हें ये लगता है कि उन्हें फ्री बिजली की आवश्यकता नही है वो चाहे तो इससे बाहर भी निकल सकते है और बाजार की सामान्य कीमतो के आधार पर भुगतान कर सकते है.

दिल्ली के सरकारी खजाने पर बोझ
जाहिर तौर पर मुफ्त में बांटने वाली और सब्सिडी की जो भी स्कीम होती है वो आम जनता के ऊपर तो एक तरह का बोझ ही होती है और ये हम अक्सर हर क्षेत्र में देखते आये है. इस कारण से केंद्र हो या फिर राज्य सरकारे चाहे वो चुनाव के वक्त कई वादे कर देती है लेकिन जब सत्ता में होती है तब सब्सिडी देने में उन्हें बड़ी समस्या आती ही है.

अब आगे चलकर के क्या केजरीवाल बाकी चीजो में भी मोदी नीतियां अपनाने की कोशिश करेंगे या फिर अपने ही हिसाब से चलने वाले है. ये अपने आप में देखने और समझने वाली बात होगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here