अमित शाह बोले ‘करोना खत्म होते ही लागू होगा सीएए’, तो नाराज ममता ने दिया बड़ा बयान

0
1575

पश्चिम बंगाल में चाहे भाजपा सत्ता को हासिल नही कर पायी हो लेकिन अभी भी वहां पर अपने मुद्दों को लेकर के शाह और पूरी पार्टी डटे हुए है ये हमें समय समय पर नजर आ ही जाता है. अगर अभी की बात करे तो इन दिनों में नागरिकता संशोधन क़ानून को लेकर के ममता और शाह दोनों ही आमने सामने आ रखे है और दोनों के ही अपने अपने तर्क और मुद्दे भी है. दरअसल क़ानून तो पास हो चुका है और अब अगली चुनौती इसे लागू करवाने की है जिसका जिम्मा भी खुद गृह मंत्री उठा चुके है.

बंगाल में बोले शाह, करोना खत्म होते ही लागू होगा सीएए
देश के गृह मंत्री और भाजपा के दिग्गज नेता अमित शाह इन दिनों पश्चिम बंगाल के दौरे पर है और वहां पर लोगो को संबोधन के दौरान उन्होंने नागरिकता संशोधन क़ानून का जिक्र करते हुए कहा कि टीएमसी समझती है जमीन पर ये सीएए लागू नही होता है. हम आपको बता दे कि करोना खत्म होते ही इसे लागू किया जायेगा और ये वास्तविकता है. ममता बनर्जी यहाँ की सांख्यिकी को बदलना चाहती है वो हम होने नही देंगे.

ममता बोली, जनता करारा जवाब देगी
ममता के बंगाल में आकर के इस तरह से बयान देने पर जाहिर तौर पर वो नाराज तो होगी ही और इस पर उन्होंने जवाब भी दिया है. ममता ने कहा कि आपका सीएए का बिल लैप्स हो चुका है अब आप इसे संसद में ला क्यों नही रहे है? हम नही चाहते नागरिको के अधिकारों पर रोक लगे और एकता ही हमारी ताकत है.

ये अमित शाह सिर्फ बंगालियों हिंदी भाषियों और हिन्दू मुस्लिमो के बीच में दूरियां पैदा करना चाहते है. मैं कहती हूँ आप आग से मत खेलिए वरना जनता आपको करारा जवाब देगी. आप लोग लोकतंत्र के ढाँचे को खराब करना चाहते है. ममता बनर्जी ने आगे और भी काफी सख्त व कडवी बाते बोली है.

यानी अभी बंगाल का अगला रण प्रारम्भ हो चुका है जिसमे राज्य में नागरिकता संशोधन क़ानून लागू करवाने को लेकर के केंद्र व राज्य सरकार दोनों ही एक दुसरे के आमने सामने खड़ी दिखाई देने वाली है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here