राज ठाकरे के लगातार लाउडस्पीकर विरोध के बाद मुस्लिम धर्मगुरूओ ने लिया बड़ा फैसला

0
3074

लाउडस्पीकर पर अजान को लेकर के इन दिनों में मुद्दा काफी अधिक बढ़ चुका है और हम इस चीज को काफी अधिक अच्छे से देख भी रहे है कि किस तरह से सब कुछ हाथ से फिसलता चला जा रहा है. कही न कही ये बहुत ही अधिक अजीब है और इसके कारण से दो समुदाय एक दुसरे के आमने सामने आ खड़े हुए है. अगर हम अभी की बात करे तो फिलहाल में इस पूरे मामले को महाराष्ट्र में लीड करने का कार्य मनसे के प्रमुख राज ठाकरे कर रहे है.

लाउडस्पीकर पर हनुमान चालीसा के पक्ष में राज
महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के प्रमुख राज ठाकरे ने पहले ही कह दिया था कि अगर 3 मई के बाद में भी सरकार मस्जिदों पर लाउडस्पीकर से अजान को नही रूकवाती है तो फिर वो इस मामले में अपनी तरफ से कार्यवाही करेंगे और उनके सामने हनुमान चालीसा का पाठ करेंगे वो भी लाउडस्पीकर पर. इसके बाद में ऐसा कई जगहों पर उनके करीबी नेताओं के द्वारा करते हुए देखा भी गया.

मुंबई में कई मस्जिदों में बिना लाउडस्पीकर के नमाज, मुस्लिम धर्मगुरुओ का निर्णय
अभी जिस तरह से मामला काफी अधिक आगे बढ़ चुका है उसके बाद में किसी को तो पीछे हटना ही था और ऐसे में ये लोग पीछे हटते हुए नजर आ रहे है. अभी हाल ही में मुंबई के कई मुस्लिम धर्मगुरूओ ने ये निर्णय लिया है कि उनके शहर में कई मस्जिदों के ऊपर बिना लाउडस्पीकर के ही नमाज पढ़ी जायेगी.

अभी आज की सुबह को ऐसा ही किया गया और लाउडस्पीकर पर कोई भी किसी तरह की आवाज सुनने को नही मिली. इससे कई आस पास के लोग भी के बार के लिए थोड़े से चकित रह गये कि आखिर उन्होंने ऐसा किस तरह से कर दिया? खैर जो भी है ये सब कुछ चीजे हमें बताती है कि कई नेताओं का महाराष्ट्र में दबदबा बढ़ तो गया ही है.

अब राज इस पर किस तरह से प्रतिक्रिया देते है ये अपने आप में देखने वाली बात ही होगी. फिलहाल के लिए तो वो लगातार अपने स्तर पर जो भी कर सकते है वो करते हुए नजर आ रहे है और सरकार पर दबाव बनाने की कोशिश कर रहे है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here