कमलनाथ का इस्तीफ़ा, कभी गांधी परिवार के ख़ास थे

0
1397

भारतीय राजनीति में कभी भी कुछ भी स्थायी होता नही है और ये बात हम हम कई राजनेताओं के परिपेक्ष में काफी अच्छे से देखते और समझते आये है इस बात को हम काफी अच्छे से समझते भी है. अगर अभी की बात की जाए तो वर्तमान में एक स्थायी मित्रवत दौर टूटते हुए नजर आ रहा है जो कभी हुआ करता था गांधी परिवार और कमलनाथ के बीच में और ये अपने आप में काफी अधिक चकित करने वाला है क्योंकि कमलनाथ तो राजीव गांधी के समय से उनके परिवार के चहेते रहे है.

कमलनाथ ने दिया नेता प्रतिपक्ष पद से इस्तीफ़ा, अब नही है मध्य प्रदेश में कांग्रेस का सबसे बड़ा चेहरा
आपको एक बात तो बहुत ही अधिक अच्छे से मालूम ही होगी कि जब कोई व्यक्ति मुख्यमंत्री नही होता तो उसे विपक्ष में रहने वाली पार्टी नेता प्रतिपक्ष बना देती है और वो उसे रिप्रेजेंट करता है और इसी कारण से अभी तक ये पद कमलनाथ के पास में था लेकिन हाल ही में उन्होंने इस पद से इस्तीफा दे दिया है.

कांग्रेस आलाकमान से चल रही थी खटपट
अभी की बात अगर हम करते है तो फिलहाल में कमलनाथ और गांधी परिवार के बीच में कई बार खटपट होने की खबरे भी आ रही थी और ये अपने आप में चकित करने वाला ही था. अगर अभी की बात करे तो उन्होंने खुदको अगले मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार कांग्रेस की तरफ से घोषित कर दिया और कहा जा रहा है इसमें आलाकमान को कुछ खास मालूम भी नही था.

अब इस तरह की स्थिति में अपने आप में चीजे थोड़ी अजीब होते हुए नजर आने लग गयी थी और ये हम भी बहुत ही अच्छे से समझ सकते है कि जो कुछ भी हुआ या फिर देखने में आया है वो अपने आप में काफी अधिक अजीब ही रहा और इसके चलते हुए कई लोग अपनी तरफ से कमलनाथ को ऐसा न करने की सलाह भी दे रहे है.

माना जा  रहा है अब आने वाले वक्त में आने वाले चुनावों में कांग्रेस पार्टी कमलनाथ को साइडलाइन करके नए नेता को उभारकर के सामने ला सकती है और ये अपने आप में बहुत ही बड़ी बात होगी अगर मध्य प्रदेश में ऐसा कुछ होता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here