उद्धव ठाकरे ने कहा, सारी दादागिरी निकाल देंगे और

0
1258

महाराष्ट्र की राजनीति इन दिनों में किस तरह से बदल गयी है वो हम देख ही रहे है. भाजपा और कई दल है जो लगातार शिवसेना को निशाना भी बनाया जा रहा है. कही न कही पूरे घटनाक्रमों के ऊपर अगर हम लोग नजर डालते है तो फिर यहाँ पर मामला ज्यादातर धर्म से जुड़ते हुए नजर आया है. अगर हम लोग अभी की बात करते है तो कभी लाउडस्पीकर को लेकर के घेराव का सामना करना है तो कभी हनुमान चालीसा वाले मुद्दे पर और कही न कही ये मामला काफी ज्यादा आगे भी बढ़ गया है.

उद्धव बोले दादागिरी निकाल देंगे, हम न सिखाये
अभी हाल ही में उद्धव ठाकरे ने बिना नाम लिए हुए अमरावती की सांसद नवनीत कौर राणा और भारतीय जनता पार्टी के ऊपर जमकर के निशाना साधा है. वो कहते है कि अगर आपको हनुमान चालीसा पढनी है और आपके घर में ये नही होता है आप हमारे यहाँ पर आकर के पढ़ना चाहते है तो जरुर आइये लेकिन उसके लिए भी एक तरीका होता है. पहले जब बालासाहेब थे माँ थी तब भी लोग आते थे और अब भी आते है.

आपका यहाँ पर आदर भी होगा लेकिन दादागिरी करोगे तो फिर शिवसेना ने हिंदुत्व के लेसन में ये भी पढ़ा दिया है कि दादागिरी कैसे निकाली जाती है? उद्धव ने पहली बार इस तरह का गुस्सा दर्शाया है और कही न कही ये आने वाले वक्त में वो और अधिक भाजपा व नवनीत राणा के उपर और अधिक नाराजगी दर्शाने वाले है.

मंदिर बनाने का फैसला अदालत ने दिया भाजपा के ऊपर भी उद्धव ठाकरे काफी अधिक गुस्सा हुए और कहा कि राम मंदिर बनाने का फैसला आपने नही बल्कि कोर्ट ने दिया है. आप लोग तो मंदिर बना रहे थे उस वक्त भी लोगो के सामने हाथ फैला रहे थे. आप लोग मुझे क्या सिखाते है हिंदुत्व? मुझे तो बाला साहेब ने सिखाया है.

कही न कही इन बातो से इतना तो स्पष्ट हो गया है कि उद्धव ठाकरे का गुस्सा भी आने वाले वक्त में बढ़ने वाला है और अगर खुद देवेन्द्र फडनवीस भी फ्रंट फुट पर आकर के खेलते है तो मामला और ज्यादा आगे जा सकता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here