सीबीएसई बोर्ड पाठ्यक्रम से हटा ‘इस्लाम से जुड़ा पाठ’, उसकी जगह शामिल किया गया..

0
5353

भारत की सरकार, शिक्षा मंत्रालय और शिक्षा से जुड़े हुए बोर्ड लगातार अपने अपने पाठ्यक्रमो में बदलाव करते रहते है और इनको बदलने के पीछे के कारण अपने आप में अलग अलग होते रहते है. कई कारण शिक्षा को और अधिक बेहतर करने के होते है तो कुछ नया पढ़ाने के मकसद से भी किये जाते है. अब इसमें किसी को कुछ पढ़ाया जाता है तो किसी को कुछ और मगर अभी हाल ही में जो बदलाव हुआ है उसे लेकर के कई लोग विरोध जरुर दर्ज करवाते हुए नजर आ रहे है.

11वी कक्षा के सलेबस से हटा इस्लाम की नींव से जुडा पाठ, अब पढ़ाया जाएगा नोमेडिक साम्राज्य
अभी हाल ही में सीबीएसई बोर्ड ने अपने ग्यारहवी कक्षा के पाठ्यक्रम में बड़ा बदलाव किया है जिसके अनुसार इसकी इतिहास की पुस्तक में जो इस्लाम की नींव से जुडा हुआ पाठ था उसे हटा दिया गया है और उसकी जगह पर नोमेडिक साम्राज्य को पढ़ाने का फैसला किया गया है. ये घुमंतू लोग होते थे जो मुख्य रूप से मध्य एशिया में होते थे.

कई शिक्षाविद उठा रहे सवाल
इस पूरे मामले पर बहुत से शिक्षाविद सवाल उठा रहे है. जेएनयू की एक प्रोफ़ेसर कहती है कि ये जो आपने हटाया है उसे हटाने से पहले क्या कोई शिक्षाविदो की राय ली गयी है? इसकी जांच की जानी चाहिए और पता लगाया जाना चाहिए. इसके सम्बन्ध में और भी कई लोग है जो अपनी तरफ से विरोध दर्ज करवा रहे है हालांकि कई सपोर्ट करने वाले लोग भी है.

हालांकि बहुत ही लम्बे समय आम जन की मांग रही भी है कि ऐसे पाठ जो वर्तमान में काफी अधिक भेदभावपूर्ण और किसी कार्य के नजर आते है या फिर जिनसे बच्चो की शिक्षा का स्तर गिरता है उनको हटाकर के उनकी जगह पर कुछ रचनात्मक चीजे पढाई जानी चाहिए और संभव है कि सरकार अब उसी दिशा में कदम उठा रही है.

हालांकि अब आगे चलकर के इसके और क्या कुछ परिणाम देखने में आयेंगे ये अपने आप में सोचने समझने वाली ही बात होगी, क्योंकि वर्तमान में इसका सपोर्ट और विरोध करने वाले दोनों ही लोग काफी बड़ी संख्या में है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here