शत्रुघन सिन्हा की किस्मत फिर से चमक पड़ी, भाजपा को मिला बड़ा झटका

0
4795

शत्रुघन सिन्हा अभी वर्तमान में राजनीति में अपनी खोयी हुई जमीन को फिर से लाने की कोशिश में लगे हुए है. आपको तो मालूम ही होगा कि भाजपा में साइड लाइन होने के बाद से ही उनके लिए कही पर भी ख़ास जगह बन नही पा रही थी. इसके बाद में उन्होंने सांसदी का चुनाव लड़ा था जिसमे भी वो हार गये. अब बिहार की राजनीति में उन्हें कोई ख़ास उम्मीद नजर नही आ रही थी जिसके चलते हुए उन्होंने फिर बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का सहारा लिया है.

टीएमसी ने दिया सिन्हा को उपचुनाव में टिकट, आसनसोल से बने सांसद
शत्रुघन सिन्हा की किस्मत एक बार फिर से ममता बनर्जी के पास में आने के बाद से ही चमक पड़ी है. अभी हाल ही में बंगाल में हुए उपचुनाव में टीएमसी ने सिन्हा को लोकसभा चुनावों में टिकट दिया था जिसमे वो पूरे 2 लाख 96 हजार वोटो के साथ में जीत गये है. सिन्हा की ये एक बतौर राजनेता काफी बड़ी वापसी मानी जा रही है और टीएमसी भी लगातार दो बार इस सीट से हार चुकी है लेकिन इस बार उन्हें ये सीट वापिस मिल गयी है.

अभी वर्तमान में शत्रुघन सिन्हा के लिए ये चुनाव जीतना काफी अधिक आवश्यक हो भी गया था क्योंकि भाजपा को छोड़ने के बाद से ही उनको कोई ख़ास उपलब्धि मिल नही पा रही थी और ऐसे में सवाल उठने लगे थे कि क्या पार्टी से इतर उनके पास में कोई साख है? ऐसे में अगर वो आसनसोल से भी नही जीतते तो फिर बड़ी दिक्कत हो सकती थी.

पटना साहिब से लड़ा था चुनाव
आपको मालूम हो तो भाजपा छोड़ने के बाद में सिन्हा ने कांग्रेस पार्टी को ज्वाइन किया था और पटना साहिब से उन्होंने रविशंकर प्रसाद के खिलाफ चुनाव लड़ा था लेकिन वो जीत नही सके थे और हार के बाद में उनको अपने ही लोगो से लगातार आलोचना का भागी बनना पड़ा था.

ऐसे में कई वर्षो के बाद में एक बड़े मार्जिन के बाद में फिर से जीतना और लोकसभा में पहुँचना सिन्हा के लिए तो बहुत ही बड़ी उपलब्धि है ही बल्कि भाजपा के लिए ये थोड़ी अच्छी खबर नही है क्योंकि सिन्हा उन नेताओं में से एक माने जाते है जो लगातार भाजपा हाई कमान की आलोचना करते रहते है और इस जीत के बाद में वो ये सब काम और अधिक खुलकर के करेंगे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here