राज ठाकरे ने कहा ‘शरद पवार धर्म को नही मानते, वो नास्तिक है’, तो पवार ने दिया ऐसा जवाब

0
2919

राज ठाकरे अभी के दिनो में काफी अधिक तीव्रता के साथ में महाराष्ट्र की राजनीति में अपने मुद्दों के साथ में उभर रहे है और हम लोग इसे देख भी अच्छे से पा ही रहे है. अगर अभी की बात करे तो फिलहाल में मस्जिदों के लाउडस्पीकर का मामला काफी अधिक तूल पकड़ रहा है जिसे वो समय के साथ में हटाना चाह रहे है. ऐसे में महाराष्ट्र सरकार और मनसे दोनों ही एक दुसरे के आमने सामने खड़े नजर आते है और जाहिर तौर पर इससे काफी हद तक तनाव तो बढ़ने ही वाला है.

ठाकरे ने कहा था, नास्तिक है शरद पवार
अभी कुछ समय पहले मनसे के प्रमुख राज ठाकरे जब लोगो से बात कर रहे थे तो उन्होंने लोगो से बात करते हुए कहा था कि शरद पवार एक नास्तिक है इसलिए वो कभी भी धर्म की बात नही करते है वो सिर्फ और सिर्फ जाति की ही बात करते है. आगे ठाकरे ने ये भी कहा कि शरद पवार कभी भी शिवाजी महाराज का नाम नही लेते है क्योंकि उन्हें डर है इससे मुस्लिम फिर उनको वोट नही देंगे.

शरद पवार ने बातो को नकारा
जब ये बाते एनसीपी के प्रमुख शरद पवार तक पहुंची तो फिर उन्होंने इस पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि राज ठाकरे की बातो को गंभीरता के साथ में लेने की जरूरत बिलकुल भी नही है क्योंकि मैं नास्तिक नही हूँ. वो हर चार पांच माह में एक बार बोलते है मगर आप ये देखिये कि वो कभी भी भाजपा के विरोध में नही बोलते है. मैं किसी भी चीज का दिखावा नही करता हूँ.

पवार ने कही न कही राज ठाकरे को सीरियस न लेने को कहा लेकिन असल में वो खुद ही उनको काफी अधिक गंभीरता के साथ में ले रहे है उनकी बाते सुन रहे है और एक एक करके उनका  जवाब भी मीडिया में दे रहे है तो इससे इतना तो पता चलता ही है कि राज ठाकरे की प्रासंगिकता आज भी महाराष्ट्र की राजनीति में बनी हुई है.

आपको मालूम हो तो इन दिनों में राज मनसे प्रमुख लगातार मस्जिदों पर से लाउडस्पीकर हटाने की डिमांड कर रहे है और इसी मुद्दे पर वो सत्ता में बैठी हुई पार्टियों को भी घेरने की कोशिश में लगे हुए है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here