कांग्रेस के लिये आ रही है बड़ी बुरी खबर, स्थिति निम्नतम स्तर पर पहुंची

0
1526

कांग्रेस पार्टी पिछले एक दशक में जिस तरह के हालात का सामना कर रही है वो किसी से भी छुपा हुआ नही है. ये दिन चीजे बिगड़ रही है और एक के बाद में एक राज्य कांग्रेस पार्टी के हाथ से निकल रहे है. ये स्थिति लोकसभा चुनावों में और विधानसभा स्तर के चुनावों में भी एक सी ही बनी हुई है जिसके कारण से न तो कांग्रेस पार्टी के पास में आज की तारीख में मजबूत संख्या में विधायक बचे है और न ही सांसद दिखाई दे रहे है. इस कारण से अब राज्य सभा से कांग्रेस पार्टी की ताकत समाप्ति के कगार पर है.

राज्य सभा में अब तक की सबसे कमजोर हालत में पहुंची कांग्रेस, 17 राज्यों से कोई प्रतिनिधि ही नही
आपको मालूम तो होगा ही कि पिछले कुछ वर्षो में कांग्रेस पार्टी काफी सारे राज्यों के विधानसभा चुनाव हारी है और इस कारण से राज्यसभा  में उनका प्रतिनिधित्व लगातार कम होता चला गया है. अगर आज की तारीख में हम बात करते है तो फिलहाल में कांग्रेस इस कारण से अब तक के सबसे कमजोर स्तर पर पहुँच चुकी है और हालात बिगड़े हुए है.

आपको मालूम हो तो मार्च के अंत तक कांग्रेस के पास में राज्यसभा में 33 सांसद हुआ करते थे जिनमे से कई रिटायर हो चुके है और अब जुलाई में कई और सांसदों का भी रिटायरमेंट होने वाला है जिसके चलते संभावित तौर पर कांग्रेस पार्टी के पास में अब 25 से भी कम राज्यसभा सांसद हो जाने के आसार नजर आ रहे है.

राष्ट्रीय मामलो पर नही बचेगा कोई प्रभाव
एक विपक्ष की पार्टी का किसी भी क़ानून या मामले में जो भी प्रभाव होता है वो कांग्रेस पार्टी का इस स्थिति के बादमे बचते हुए नजर नही आ रहा है क्योंकि हर क़ानून राज्यसभा से पास करवाना होता है और उसमे इतने से सांसदों के साथ में कांग्रेस पार्टी कोई बड़ा प्रभाव डालने की भूमिका में नही रहने वाली है और इसका सीधा फायदा कही न कही भाजपा को मिलने वाला है.

अगर कांग्रेस कुछ राज्यों में आने वाले समय में चुनाव जीत भी लेती है तो भी आने वाले समय में पार्टी को फिर से राज्यसभा में मजबूत होने में एक दशक से भी अधिक का समय लग सकता है जो काफी लंबा वक्त होता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here