नेपाल फिर से बन सकता है हिन्दू राष्ट्र, आ रही है बड़ी खबर

0
1208

भारत का पडोसी और छोटा भाई कहा जाने वाला देश नेपाल इन दिनों में काफी अधिक अलग तरह के दौर से होकर के गुजर रहा है और कही न कही ये एक अलग तरह का दौर है जिसकी उम्मीद बहुत ही कम लोगो ने की थी, क्योंकि पिछले दो दशक से नेपाल में साम्यवाद का बोलबाला रहा है और केपी ओली जैसे नेता प्रधानमंत्री बनते रहे है. मगर समय बदल चुका है और लोगो का झुकाव एक बार फिर से अपने पुरातन समय की तरफ जाने को लेकर के बढ़ते हुए नजर आ रहा है.

सरकार के वरिष्ठ मंत्री ने कहा, अगर अधिकतर लोग चाहे तो जनमत संग्रह के माध्यम से कर सकते है
अभी हाल ही में शेर बहादुर देबुआ की नेपाल सरकार एक सांस्कृतिक मंत्री ने एक बड़ा बयान दिया है जिसमे उनका कहना है कि नेपाल को एक बार फिर से हिन्दू देश बनाने के ऊपर फिर से विचार किया जा सकता है अगर इस तरह की मांग आती है तो फिर वो इसमें काफी अधिक सकारात्मक भूमिका निभायेंगे.

आगे उन्होंने कहा कि अभी देश में अधिकतम लोग इसी धर्म से आते है और सरकार चाहेगी तो जनमत संग्रह के माध्यम से ऐसा किया जा सकता है. आपको मालूम हो तो पिछले डेढ़ दशक के समय से नेपाल एक धर्मनिरपेक्ष देश रहा है क्योंकि साम्यवाद का राज था मगर अब देखते ही देखते चीन का प्रभाव इस देश से समाप्त हो गया है तो लोग व सरकार फिर से अपने पुराने समय में जाना चाह रहे है.

भारत से बढ़ रही फिर नजदीकियां
अभी के दिनों में चीन से बढती दूरियों के साथ में नेपाल की भारत से फिर नजदीकियां बढ़ भी रही है. अगर हम लोग नजर डालते है तो अभी हाल ही में नेपाली प्रधानमंत्री शेर बहादुर देबुआ हाल ही में भारत आये है और चकित करने वाली बात ये थी कि वो सबसे पहले भाजपा कार्यलय में चले गये और जेपी नड्डा से मुलाक़ात की जो आम तौर पर होता नही है.

अभी इससे कही न कही भारत और नेपाल के सम्बन्ध पहले की तरह मजबूत हो सकते है और ये बात हम लोग भी बहुत ही अधिक अच्छे से जानते है. खैर अब बाकी तो जो कुछ भी है हम समझ पाते ही है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here