भारत ने तोड़े अब तक के सारे रिकॉर्ड, जिनपिंग को मोदी ने दे दिया नया सरदर्द

0
1879

भारत दिन ब दिन अपनी कामयाबी के नए मुकाम छूता चला जा रहा है और कही न कही इस कारण से आज के समय में चीन जो अपना प्रभाव एशिया में बनाने की कोशिश कर रहा था उसको भी काफी हद तक चुनौती मिलती चली जा रही है. यहाँ पर हम बात कर रहे है अर्थव्यवस्था और व्यापार की जिसमे कही न कही भारत ने काफी अधिक उंचाई से भरे हुए मुकाम छू रखे है और अभी हाल ही में एक और बड़ा आंकड़ा सामने आया है जो चीन के लिए दिक्कत वाली बात बन सकता है.

भारत ने एक वर्ष में किया 400 बिलियन डॉलर का निर्यात, अब तक के रिकॉर्ड उच्चतम स्तर पर
भारत ने गत वर्ष में एक बड़े रिकॉर्ड को हासिल किया है. इस बीते वर्ष यानी वर्ष 2021-22 में हमने विश्व को कुल 400 बिलियन डॉलर का निर्यात किया है जो भारतीय मुद्रा में 30 लाख करोड़ रूपये है. ये इससे भी पिछले वित्त वर्ष की तुलना में 37 प्रतिशत अधिक था और इस तरह के उछाल की कल्पना खुद सरकार ने भी कम ही की थी लेकिन ये वाकई में हुआ है.

इस ख़ुशी के अवसर पर प्रधानमंत्री मोदी ने खुद भी देश के एमएसएमई से जुड़े लोगो को, किसानो को, व्यापारियों को और एक्सपोर्टरो को बधाई दी है क्योंकि सरकार के साथ में सबके मिले जुले सहयोग के कारण ही इस तरह का ऐतिहासिक एक्सपोर्ट का आंकडा भारत ने हासिल किया है. भारत ने स्टील से बने प्रोडक्ट्स, कपास से बने समान, अनाज, मेडिकल सामान, फार्मास्यूटीकल, फल, टेक्सटाइल्स और भी काफी सामान दुनिया भर में एक्सपोर्ट किये है.

चीन के लिए चुनौती के रूप में खड़ा हो रहा भारत
वर्तमान में तो चीन भारत से कई कदम आगे है क्योंकि उसके एक्सपोर्ट ट्रिलियन डॉलर में जा चुके है लेकिन वो दिन दूर नही है जब भारत भी आने वाले वर्षो में इस आंकड़े तक पहुँच सकता है क्योंकि अभी मोदी सरकार भारत में सेमीकंडक्टर निर्माण, ऑटोमोबाइल्स निर्माण और कई सारे मेक इन इंडिया प्रोजेक्ट्स पर काम कर रही है.

ऐसे में जाहिर तौर पर चीन को ग्लोबल सप्लाई चैन में अपनी जगह को धीरे धीरे खोने का डर तो रहेगा क्योंकि अगर भारत ऐसा करता है तो चीन के प्रतिद्वंदी देश भारत को समर्थन देने का प्रयास कर सकते है जिसमें क्वाड के देश जापान, अमेरिका और ऑस्ट्रेलिया प्रमुखता के साथ में आते है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here