बसपा ने कहा था ‘हम भाजपा से जल्दी राम मंदिर बनायेंगे’, तो योगी जी ने भी कह दी अब इतनी बड़ी बात

0
1697

राम मंदिर का यूपी की राजनीति में कितना अधिक महत्त्व है ये बात किसी से भी छुपी हुई नही है. जिस तरह से बीतते हुए समय काल में चीजे बदली है और हम लोगो की मंदिर के प्रति भावना को बढ़ते हुए देख रहे है उसके बाद में लगभग हर राजनीतिक दल इसके पक्ष में बोलने लगा है और इसी कारण से मंदिर निर्माण को लेकर के राजनीतिक पार्टियाँ भी आपस में एक दुसरे से होड़ सी लगाते हुए नजर आ रही है. इसमें ख़ास कम्पीटीशन भाजपा और बसपा के बीच में देखने को मिलता है.

सतीश मिश्रा बोले थे. बसपा की सरकार आयी तो जल्दी और अधिक भव्य मंदिर बना देंगे
अभी कुछ माह पहले की घटना है जब बसपा के वरिष्ठ नेता सतीश चन्द्र मिश्रा ने अपने एक बयान में ये कहा था कि भाजपा वाले समय लगा रहे है. अगर बसपा की सरकार यूपी में आती है तो हम बहुत ही अधिक जल्दी से और बहुत ही ज्यादा भव्य राम मंदिर का निर्माण अयोध्या में करवा देंगे. उनका ये बयान खूब अधिक सुर्खियों में भी बना रहा था.

वर्ष 2023 तक तैयार हो जायेगा मंदिर, ये होगा राष्ट्र मंदिर
अभी हाल ही में योगी आदित्यनाथ करहल में चुनावी सभा करने के लिए पहुंचे थे और वहां पर उन्होंने लोगो को संबोधित करते हुए कहा कि हमने मंदिर के लिए जो कहा हम कहते थे मंदिर वही बनायेंगे क्या सपा या फिर बसपा वो करती? जब दुनिया में करोना चल रहा था तब वो भी मंदिर निर्माण का  कार्य नही रोक पाया.

हम तो अब भी कहते है कि साल 2023 में मंदिर के निर्माण का कार्य पूरा हो जायेगा और राम मंदिर भारत का राष्ट्र मंदिर होगा. इसी बयान के साथ में सीएम योगी ने एक तरह से वर्ष बता दिया है कि आखिर कब तक एक सुन्दर मंदिर बन जाएगा और लोग वहां पर दर्शन करने के लिए जाने लग जायेंगे.

अब इसमें सपा और बसपा मुद्दे को अपनी तरफ खींचने की कोशिश तो कई बार करते हुए दिखाई दे जाती है लेकिन ऐसा कभी भी हो नही पाता है और ये हमने एक नही बल्कि कई बार होते हुए देखा भी है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here