प्रधानमंत्री मोदी का अभूतपूर्व कदम, जो देश की शिक्षा व्यवस्था को हमेशा के लिए बदल देगा

0
1555

आज का समय देश में तीव्रता के साथ में विकास का दौर है और जिस चीज को लेकर सबसे अधिक फोकस किये जाने की जरूरत महसूस होती है वो है शिक्षा. कही न कही ये बात तो हम लोग भी काफी अधिक बेहतर तरीके से जानते व समझते है. अगर बात करे हम अभी के लिहाज से तो मोदी सरकार इस पर काफी अधिक अच्छे से कार्य कर भी रही है और हाल ही में कुछ एक बेहतरीन कदम उठाये है जो शिक्षा व्यवस्था को पहले की तुलना में कई अधिक बेहतर करने का कार्य कर सकती है.

देश में बनेगी नेशनल डिजिटल यूनिवर्सिटी, सीटो की समस्या खत्म होगी
अभी देश में शिक्षा के लिए सीट्स हासिल करना काफी अधिक मुश्किल हो गया है. कॉलेज में सीट होती है कुछ हजार और उसके लिए आवेदक लाखो में पहुँच जाते है और फिर ऐसे में लोग अपने चुनिन्दा कॉलेज व कोर्स में एडमिशन ले नही पाते. फिर बात यही पर ही नही रूकती है, कई लोग ग्रामीण क्षेत्र में भी रहते है तो उनके लिए बड़े शहरो के बड़े शिक्षण संस्थानों तक पहुँच पाना काफी अधिक मुश्किल और खर्च भरा होता है.

इसी समस्या के हल के रूप में सरकार लेकर आयी है नेशनल डिजिटल यूनिवर्सिटी. हाल ही के एक वेबिनार में इस पर जानकारी देते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने बताया कि इसके जरिये डिजिटल एजुकेशन प्रमोट होगा और जो देश में सीटो की समस्या है उस पर भी काफी हद तक पकड़ बन सकेगी जो एक अच्छी चीज है. यानी अब लोग अपने घर से ही डिजिटल माध्यम से पढकर शिक्षित हो पाएंगे.

नयी राष्ट्रीय शिक्षा नीति भी कर रही अपना काम
आपको मालूम हो तो अभी हाल ही में प्रधानमंत्री मोदी की सरकार ने देश में नयी राष्ट्रीय शिक्षा नीति को भी लागू कर दिया है जिसके तहत बच्चो को अंको पर नही बल्कि स्किल पर ध्यान देना सिखाया जायेगा और प्रैक्टिकल नोलेज पर ध्यान देने को लेकर सलेबस तैयार होंगे ताकि भारत के स्टूडेंट विश्व स्तर पर लोगो को जवाब दे सके.

खैर अभी तो ये सब प्लान कागजो पर है और इन पर कुछ कुछ काम हो भी रहा है लेकिन इनके परिणाम सामने आने में कई साल लग जायेंगे, मगर लोगो को उम्मीद है कि शिक्षा अपने आप में समाज को प्रकाशमान करने वाली चीज है और जाहिर तौर पर इससे तो फायदा मिलने ही वाला है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here