इतिहास में पहली बार चीन ने उठाया सर्वशक्तिमान कदम, अमेरिका ही नही भारत भी सकते में

0
3206

अभी जब बात आती है विश्व में सबसे शक्तिशाली देश  की जो हर चीज में आगे रहता है तो वो एक ही नाम आता रहा है जो है अमेरिका, मगर अभी विश्व में जिस तरह से शक्ति का संतुलन बिगड़ने लगा है उसके बाद में चीन एक अलग ही स्तर के प्रतिद्वंदी के रूप में निकलकर के आया है. माना जा रहा है अमेरिका से स्पर्धा करने वाला ये देश यूएसएसआर से भी कई ज्यादा आगे है और अभी हाल ही में इसने एक बड़ा कदम प्रतिबंधो से जुड़ा हुआ उठाकर के काफी चकित कर दिया है.

अमेरिका के ऊपर चीन ने लगाये आर्थिक प्रतिबन्ध, दो बड़ी डिफेन्स कम्पनियां होगी प्रभावित
अभी हाल ही में चीन की सरकार ने अमेरिका की दो सबसे बड़ी डिफेन्स कम्पनियों ‘लोकेड मार्थिन’ और ‘रेथोन टेक्नोलॉजीज’ के ऊपर आर्थिक प्रतिबन्ध लाद दिए है जिसके बाद में ये कम्पनियां चीन में अपना कोई सामान नही बेच पाएगी और इसके अलावा चीन ये भी सुनिश्चित करेगा कि अमेरिका में बने हुए वीपन विश्व में न बेचे जा सके और इसके लिए वो अपने डिप्लोमेटिक चैनल का इस्तेमाल करेगा.

बायडन के समय में बढ़ चुकी है हिम्मत
चीन का आरोप है कि अमेरिकन कम्पनियां ताइवान को डिफेन्स आइटम बेचकर उसके राष्ट्रीय हित को नुकसान पहुंचा रही है इस कारण से उसने ऐसा किया, जबकि एक सत्य ये भी है कि जब अमेरिका में ट्रम्प राष्ट्रपति थे तब भी अमेरिका ने कई बड़ी बिलियन डॉलर की डिफेन्स डील ताइवान के साथ साईन की थी तब चीन ने ऐसा कदम उठाने की हिम्मत नही की और अभी बायडन के आते ही चीन आर्थिक प्रतिबन्ध लगा रहा है.

अभी तक ये ताकत सिर्फ अमेरिका रखता था, भारत के लिए चिंता वाली बात
जब भी विश्व में आर्थिक प्रतिबंधो की बात आती थी तो एक प्रभावी शक्ति इसमें अमेरिका ही आता था. अमेरिका के प्रतिबंधो ने रूस और ईरान जैसे देशो की अर्थव्यवस्था को एकदम से आसमान से गिराकर जमीन पर रख दिया है. मगर अब उसी तरह की पॉवर चीन होने के दावे कर रहा है और अमेरिका के ऊपर प्रतिबन्ध लगा रहा है. इससे विश्व एक नए शीत युद्ध में प्रवेश करते हुए नजर आ रहा है.

भारत के लिए चीन के पास इस तरह की शक्ति होना काफी अधिक चिंताजनक है क्योंकि कल को चीन इसी तरह के प्रतिबंधो का इस्तेमाल भारत की अर्थव्यवस्था को नुकसान पहुंचाने के लिए भी कर सकता है जो काफी अधिक बुरा है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here