फ्रांस ने भारत को बड़ा झटका दिया, अब से किसी भी दोस्त पर भरोसा नही करेंगे मोदी

0
4371

एक बात अक्सर ही कही जाती है कि जब बात वैश्विक राजनीति की आती है तो यहाँ पर हमारा कोई भी स्थायी मित्र या फिर कोई भी स्थायी दुश्मन नही होता है, हर कोई आपके करीब केवल इसलिए है क्योंकि उससे आपका हित है और कोई आपसे दूर इसलिए है क्योंकि उसमे उसका कोई निजी फायदा है. अभी हाल ही में भारत के वर्तमान में परम मित्र कहे जाने वाले देश फ्रांस ने भी ऐसा ही कुछ किया है और इसके कारण से भारत के विदेश मंत्री को खुद फ्रांस मामला संभालने के लिए जाना पड़ा है.

फ्रांस ने चीन के साथ मेगा डील साईन कर दी, मिलकर अफ्रीका और साउथ ईस्ट एशिया में निवेश करेंगे
अभी हाल ही में फ्रांस ने चीन के साथ में कुछ एक मेगा डील पर हस्ताक्षर कर दिए है जो अपने आप में भारत, अमेरिका, जापान और यूरोप के कई मित्र देशो को चकित करने वाली है. चीन और फ्रांस के बीच में हुई डील के अनुसार अब ये दोनों ही देश मिलकर के कई बिलियन डॉलर का निवेश साउथ ईस्ट एशिया में करने वाले है.

इसके अलावा इन्होने पहले ही 10 बिलियन डॉलर की डील यूगांडा में पाइपलाइन प्रोजेक्ट के लिए भी कर ली है जिसमे फ्रांस चीन के साथ मिलकर के कार्य करने वाला है. इस डील के साईन होते ही भारत के विदेश मंत्री तुरंत प्रभाव से फ्रांस चले गये है और वहां पर वो इसको काउंटर करने का प्रयास कर रहे है. चीन के साथ मिलकर अगर फ्रांस साउथ ईस्ट एशिया में निवेश करता है तो इससे सीधे तौर पर इंडो पेसिफिक में भारत का पक्ष कमजोर हो जाएगा.

अमेरिका से दूरी के चलते फ्रांस का निर्णय
अभी फिलहाल में फ्रांस और अमेरिका के बीच में काफी तनातनी देखने को मिली है. हाल ही में ऑस्ट्रेलिया को फ्रांस सबमरीन बेचने वाला था वो अमेरिका ने छीन ली, फिर भारत में भी कई इक्वीपमेंट बेचने के लिए फ्रांस को अमेरिका से स्पर्धा करनी पड़ रही है और यही नही अफ्रीका में अमेरिका के कई प्रोजेक्ट चल रहे है लेकिन फ्रांस अभी किसी बड़े प्रोजेक्ट में पार्टनर नही बन पाया है.

ऐसे में अपने हितो को ध्यान में रखते हुए इस देश का झुकाव निवेश को लेकर चीन की तरफ बढ़ा है, मगर इससे कही न कही भारत के हित खराब हो रहे है और ऐसे में संभव है भारत फ्रांस को चीन के पाले में से जाने से रोकने के लिए कुछ पार्टनरशिप में ऊर्जा से जुड़े हुए प्रोजेक्ट के निवेश पर आकर्षित करने की कोशिश करे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here