मोदी सरकार में ही उठी डिमांड, इनकम टैक्स को पूरी तरह से खत्म कर दो

0
2460

अभी देश में जल्द ही आने वाले वित्त वर्ष का बजट पेश करने की तैयारी चल रही है और जाहिर तौर पर लोग इसको लेकर के हर तरह की उम्मीदे भी लगा रहे है क्योंकि कही न कही बजट ही है जिसकी मदद से कही न कही देश में आगे की आर्थिक प्रगति किस तरह से होने वाली है इसका सही रूप से निर्धारण होता है. खैर जो भी है अभी बजट से पहले इनकम टैक्स होने न होने के ऊपर भी काफी अधिक बहस शुरू हो चुकी है और ये काफी दिलचस्प भी है.

भाजपा नेता और राज्यसभा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने की इनकम टैक्स समाप्त करने की वकालत
अभी हाल ही में भारतीय जनता पार्टी से राज्य सभा सांसद के रूप में चुनकर के आ चुके और काफी अधिक लोकप्रिय नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने आम जनता की तरफ से वकालत करते हुए कहा कि उनके अनुसार देश में इनकम टैक्स को अभी के लिए कम से कम समाप्त किया जाना चाहिए, करोना के कारण से लोगो की आर्थिक स्थिति बिगड़ी है और देश के विकास को गति देने के लिए ये करना ही होगा.

स्वामी आगे कहते है कि आगे हम चाहे तो इनकम टैक्स को हटाकर के इसको स्थायी रूप से दूर भी कर सकते है. सरकार को लगभग चार लाख करोड़ रूपये की आय इससे होती है. अगर हम चाहे तो कोयले संसाधनों की नीलामी जैसे कई और वैकल्पिक स्त्रोत है जिनकी मदद से सरकार अपनी आय कर सकती है. अगर देश की इकॉनमी को ग्रोथ देनी है तो ये करना ही होगा.

अर्थशास्त्री भी इनकम टैक्स का बोझ कम करने के पक्ष में
अगर कई निजी अर्थशास्त्रियों को देखे तो अधिकतर आम जनता पर से इनकम टैक्स का बोझ कम करने के पक्ष में ही नजर आते है. विश्व के कई विकसित देशो जैसे यूएई, सिंगापुर और अमेरिका आदि में या तो टैक्स नही है या फिर भारत की तुलना में बहुत ही अधिक कम है. इससे जनता के पास में पैसा बच जाता है और उनका निजी निवेश देश की अर्थव्यवस्था और इन्फ्रास्ट्रक्चर में बढ़ता चला जाता है.

इससे इकॉनमी सरकार के बिना अधिक खर्च किये ही काफी तीव्रता से बढ़ने लगती है. स्वामी जी का भी सुझाव यही ऐसा कुछ करने का है लेकिन क्या मोदी सरकार इस तरह के किसी कदम की तरफ बढ़ने का सोच रही है? इस पर तो अभी कल के बजट में ही सब कुछ पता चल सकेगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here