प्रधानमंत्री मोदी से मिले टाटा के चेयरमेन, लिया गया ऐतिहासिक फैसला

0
2356

पिछले कुछ वर्षो में जब से मोदी सरकार सत्ता में आयी है तब से कई सारे ऐसे निर्णय लिए गये है जो अपने आप में काफी हद तक अप्रत्याशित ही थे मगर चीजे हुई और अभी इसी कड़ी में एक और बड़ा निर्णय लिया गया है जो अपने आप में देश के इत्तिहास को बदलने वाला है क्योंकि आज टाटा समूह और देश की सरकार के बीच में एक बहुत ही बड़ी डील हुई है जो देश के एविएशन सेक्टर के लिए सबसे अधिक महत्त्वपूर्ण है.

प्रधानमंत्री मोदी से मिले एन चन्द्रशेखरन, एयर इंडिया औपचारिक तौर पर टाटा को सौंपी गयी
आज टाटा संस के चेयरमेन एन. चन्द्रशेखरन प्रधानमंत्री मोदी से मिलने के लिए उनके आवास पहुंचे, दोनों ने साथ में मिलकर के काफी देर तक  बातचीत की और इसके बाद में औपचारिक तौर पर अब से एयर इंडिया को टाटा ग्रुप को सौंप दिया गया. हालांकि डील तो काफी पहले ही हो गयी थी लेकिन टाटा ने सरकार से मिलकर के आज इसका अधिग्रहण कर लिया है और अब से ये टाटा समूह की सम्पति कहलाएगी जो अपने आप में बड़ी खबर है.

मेनेजमेंट को बेहतर करने और घाटे को कम करने पर काम करेगा टाटा समूह
अगर हम लोग अभी की बात करे तो टाटा समूह का कहना है पहले अभी हमारी प्राथमिकता अधिग्रहण के बाद में मेनेजमेंट को और अधिक बेहतर करने और कम्पनी जो घाटे में चल रही है उसे उबार कर के सामान्य स्थिति में लाने की रहेगी और इसके लिए कम्पनी अपनी हर संभव कोशिश करने ही वाली है.

इस सम्बन्ध में फ्री मील उपलब्ध करवाने से लेकर काफी कुछ है जो कम्पनी करने वाली है हालांकि एक बात ये भी है कि कम्पनी का नाम अभी नही बदला जायेगा, इस मामले को लेकर के सरकार और टाटा के बीच में सहमती बन चुकी है वरना कई लोग कयास लगा रहे थे कि अब आगे से शायद एयर इंडिया का नाम बदलकर के टाटा एयरलाइन भी हो सकता है, मगर अगले कुछ वर्षो तक ऐसा नही होगा.

हालांकि आने वाले वक्त में चुनौती कम नही है क्योंकि यहाँ पर पहले ही इंडिगो और स्पाइस जेट जैसे बड़े खिलाड़ी मौजूद है और मार्किट में टाटा को काफी अधिक मेहनत करनी पड़ सकती है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here