भारत का चीनी कम्पनियों पर बड़ा एक्शन, तिलमिलाकर बोला ये ठीक नही कर रहे हो

0
1816

अभी के लिये भारत सरकार काफी ज्यादा एक्शन मोड में नजर आ रही है. आये दिन कई ऐसे कदम उठाये जा रहे है जिनमे से कुछ एक बेहतरीन रहे तो कई की आलोचना विश्व में की भी जा रही है मगर इसके बावजूद मोदी सरकार अपने कदम पर अडी रही. अगर अभी की बात करे तो फ़िलहाल के लिए चीनी कम्पनियों के ऊपर बहुत ही बड़े क्रैक डाउन की खबर आ रही है जिसकी चर्चा पड़ोस के बाकी देशो में भी देखने में आ रही है. कही न कही ये आखिर में होना ही था.

चीनी फोन कम्पनियों पर 1 हजार करोड़ की टैक्स पेनल्टी
अभी हाल ही में भारत सरकार के इनकम टैक्स और जीएसटी आदि विभागों ने कई जांचे की थी जिसमे पता चला कि भारत में बेच रही बड़ी बड़ी चीनी फोन कम्पनियां काफी बड़ी धांधली कर रही थी. काफी टैक्स का पैसा बचा लिया गया और फिर उसे विदेश में भेजा जाता था जिससे वो प्रॉफिट बना सके या फिर उस पैसे को कही और लगाकर के और अधिक व्यापार फैलाने पर भी काम चलने की खबरे थी.

जब सरकार ने ये पकड़ा तो तुरंत प्रभाव से इन कम्पनियों के ऊपर एक हजार करोड़ रूपये का जुर्माना लगाया गया है और ये अपने आप में काफी बड़ा अमाउंट है जिसे भरने में इनको पसीने छूटने वाले है मगर कही न न कही ये इंटेलिजेंस की कामयाबी ही कही जा रही है कि सरकार ने इस तरह की चल रही गडबडी को जल्दी से पकड़ लिया.

चीन नाराज, मीडिया के माध्यम से कर रहा आलोचना
भारत सरकार ने पिछले कुछ माह में चीन की आईटी से लेकर विभिन्न कम्पनियों के ऊपर जो भी एक्शन लिए है उसके कारण से चीन नाराज है ये तो हमें साफ़ तौर पर नजर आ ही रहा है. इसे वो कभी अपने प्रवक्ता तो कभी ग्लोबल टाइम्स के माध्यम से भी जताता रहता है.

खैर अभी सरकार की नीति जिस तरह की रह रही है उसके हिसाब से लग रहा है जैसे आगे चलकर के भी ऐसा ही कुछ रहने वाला है और इससे चीन को भविष्य में कई बिलियन डॉलर के नुकसान होने की आशंका मान सकते है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here