मायावती को बड़ा झटका देने की तैयारी में भाजपा

0
3072

उत्तर प्रदेश में जैसे जैसे चुनाव नजदीक आते जा रहे है वैसे वैसे स्थितियां भी हाथ से बाहर होते चली जा रही है और ये बात तो हम लोग भी बहुत ही अधिक अच्छे तरीके से जानते है. जिस तरह से मायावती और अखिलेश यूपी की राजनीति में साइड लाइन हुआ महसूस कर रहे है क्योंकि उनका काफी वोटर बेस भाजपा ले गयी है उसे वापिस बचाने में तो वो अभी तक कामयाब हुए या फिर न हुए हो लेकिन जो उनके पास बचा है उसे भी बीजेपी लेने की कोशिश में लग गयी है और इससे बुरा भला क्या ही हो सकता है?

जाटव वोटरो को अपने पक्ष में ला रही भाजपा, बेबी रानी मौर्य को बनाया चेहरा
अभी हाल ही में भारतीय जनता पार्टी ने बेबी रानी मौर्य को उत्तर प्रदेश में जाटव वोटरों का प्रमुख चेहरा बना लिया है. वो पहले गवर्नर रही है और अब राजनीति में उतरी हुई है. हालांकि उनका अब इस जगह पर किस हद तक प्रभाव होता है वो देखने वाली बात होगी. हाँ ये बात तो हहै कि यूपी में आज की तारीख में भाजपा के लिए जाटव वोटरों का काफी अधिक महत्त्व है.

अब तक मायावती को एकजुट वोट करते आये है जाटव, 10 फीसदी है संख्या
अभी तक के चुनावों पर नजर डाले तो मायावती की मजबूती के पीछे यही समुदाय के लोग रहे है और इनकी संख्या प्रदेश में लगभग 10 फीसदी है तो इससे जाहिर तौर पर पता चलता है कि इनका प्रभाव इलेक्शन पर अच्छा खासा पड़ सकता है ऐसे में इनको अपनी तरफ लाने में ये कोई कसर नही छोड़ना चाहते है.

बेबी रानी मौर्य ने अभी हाल ही में अपने बयान में कहा कि मेरे समुदाय के लोगो को पिछले कई वर्षो से लीडरशिप की तलाश है जो उनको सही नेतृत्व दे सके. मैं उन लोगो के पास में सीएम योगी आदित्यनाथ और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी का सन्देश लेकर के जाउंगी.

जिस तरह की मंशा के साथ में अब भाजपा मायवती के वोटर बेस को लुभाने में लग गयी है उसके बाद में इतना तो साफ़ तौर पर कह सकते है कि आने वाले वक्त में उनकी राजनीतिक जमीन कमजोर भी हो सकती है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here