जो बायडन अब ऐसी गलती करने की सोच रहे है, जो चीन को विश्व की महाशक्ति बना देगा

0
1248

अमेरिका आज के समय में विश्व की सबसे बड़ी महाशक्ति है और आज चाहे उसका बर्ताव किसी भी देश के लिए कैसा भी हो लेकिन एक बड़े पॉवर के होने के चलते विश्व में काफी हद तक संतुलन बना हुआ है और आज दुनिया शांत है. मगर लग रहा है मानो अभी की लीडरशिप थोड़े अलग तरीके से पेश आ रही है जिसके कारण से विश्व स्तर पर अमेरिकी छाप काफी अधिक कमजोर पड़ते हुए नजर आ रही है चाहे वहाँ की कम्पनियां कितनी ही  मजबूत क्यों न हो? अभी हाल ही में एक खबर ऐसी ही बाहर आ रही है.

अमेरिका कर रहा नो फर्स्ट यूज पालिसी पर विचार, सारे मित्र राष्ट्र चिंता में
अभी के लिए अमेरिकी मीडिया के हवाले से बड़ी खबर ये आ रही है कि अमेरिकी राष्ट्रपति बायडन एक बहुत ही बड़ी गडबड करने की सोच रहे है और वो है नो फर्स्ट यूज पालिसी. इसके तहत कोई भी देश ये पालिसी लागू करता है कि जब तक हमारे देश पर कोई भी परमाणु से अटैक नही करता है तब तक हम भी नही करेंगे. पेंटागन के प्रमुख से जब इस पर सवाल किया गया तो उन्होंने भी कहा कि अभी इस पर विचार हो रहा है.

मित्र राष्ट्र चिंता में, चीन का प्रभुत्व बढ़ जायेगा
आज के वक्त में अमेरिका के छोटे लेकिन अमीर देश जैसे जापान, ताइवान, फिलिपीन्स और साउथ कोरिया कई देश है जो अमेरिका पर भरोसा करते है कि अगर उनके ऊपर कोई भी देश कुछ करता है तो अमेरिका तुरंत उनकी मदद कर ही देगा और आखिर अमेरिका के पास में परमाणु की शक्ति है.

लेकिन अगर अमेरिका उस शक्ति को उपयोग में ही न लेने की बात कर रहा है क्योंकि ये तो जाहिर सी बात है कि अमेरिका की धरती पर तो कोई भी ऐसी गलती करने की सोचेगा भी नही और जब तक ऐसा नही होगा तब तक वो अपनी इस पालिसी के तहत जवाबी कार्यवाही नही कर पायेगा तो ये चिंताजनक बात होगी.

ऐसे में विश्व चीन के प्रभुत्व के आगे झुक सकता है
भारत के लिए भी ये चिंता वाली बात है क्योंकि इसका अर्थ एक तरह से ये होगा कि जो बायडन खुद से अमेरिका का सुपरपॉवर वाला जो ताज है वो उतार रहे है और ये बादमे जाहिर तौर पर जिनपिंग हडप करना चाहेंगे क्योंकि कई देशो के पास में इसके बाद में चीन के प्रभुत्व को स्वीकार करने के अलावा और कोई रास्ता नही बचेगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here