अफगानिस्तान में तालिबान आने के बाद सीडीएस जनरल रावत ने बतायी इस बात की चिंता, सरकार सतर्क

0
1256

अभी हम लोग जानते है कि अफगानिस्तान में हालात बिलकुल भी अच्छे नही है और चीजे कही न कही कण्ट्रोल से बाहर हो चुकी है क्योंकि वहां की जो वर्तमान में सरकार है वो डिप्लोमेसी के बारे में कुछ भी जानती नही है और कही न कही इसके कारण से वहां की जमीन से उत्पन्न होने वाली अस्थिरता दुनिया भर में डेरा डाल सकती है और इसमें एक नाम भारत देश का भी आ रहा है, जिस पर देश के सर्वोच्च सैन्य अधिकारी का बयान आया है. ये ही स्थिति की गंभीरता को बता देता है.

अफगानिस्तान में जो कुछ भी हो रहा है, उसका असर कश्मीर पर पड़ सकता है
अभी हाल ही में मीडिया से बातचीत के दौरान देश के सर्वोच्च सैन्य अधिकारी चीफ ऑफ डिफेन्स स्टाफ जनरल रावत साहब ने कहा कि आज की तारीख में अफगानिस्तान में जो कुछ भी हो रहा है कल को उसका असर कश्मीर में भी पड़ सकता है. हमें अब इसके लिए पूरी तरह से तैयार रहने की जरूरत होगी.

हमें अपनी सीमाओं को सील करना पड़ेगा, अब निगरानी करना बहुत ही अधिक महत्त्वपूर्ण हो गया है और कौन बाहर से आ रहा है इस पर आँखे खुली रखनी पड़ेगी. पहले की तुलना में अधिक सख्त चेकिंग करनी होगी. जनरल रावत ने यहाँ पर तालिबान के द्वारा फिर से अस्थिरता फैलाने और भारतीय फोर्सेज के ऊपर दबाव बढाने का जिक्र किया गया है जो भविष्य में हो सकता है अगर हम अपनी आँखे आज के वक्त में खुली नही रखते और मजबूती के साथ में बॉर्डर की सुरक्षा नही करते है.

चीन पर भी बोले सीडीएस
तालिबान के अलावा जनरल रावत चीन की बढ़ रही इच्छाओं पर भी बोले है. उन्होंने कहा कि चीन की ये जो विश्व की महाशक्ति बनने की महत्त्वकांक्षा है वो एशिया की स्थिरता के लिए एक तरह से खतरा है. चीन दक्षिण एशिया और हिन्द महासागार में अपना विस्तार करने की हर संभव कोशिश कर रहा है.

जिस तरह से चीन म्यामार और पाक में अपनी स्थिति को मजबूत कर रहा है वो भारत के हित में नही है. कही न कही अब भारत एक ऐसे स्थान पर है जहाँ पर एक तरफ पाक और तालिबान से जूझना पड़ रहा है तो दूसरी तरफ चीन की परेशानी आ खड़ी हुई है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here