कभी कन्हैया करता था राहुल गांधी का विरोध, अब उसी को लेकर कहने लगा ऐसी बात

0
2829

कन्हैया कुमार को तो हम सब लोग बहुत ही अच्छे से जानते है जो जेएनयू में नारों के बाद में फेमस हुए नेता है. कभी एक वक्त में एक सामान्य छात्र की तरह जीवन बिताने वाले कन्हैया कुमार ने अचानक से लेफ्ट पार्टी ज्वाइन कर ली और इसके बाद में वो बेगूसराय से चुनाव भी लड़ा लेकिन तब तक कन्हैया कुमार को कोई भी ख़ास पहुँच नही मिली और कन्हैया को चुनाव में भी हार ही मिली. ऐसे में कन्हैया ने अक्सर कांग्रेस और गांधी परिवार को लेकर भी वंशवाद जैसे निशाने साधे थे क्योंकि इनको वंशवाद से आजादी जो चाहिए थी.

अब कन्हैया ने बताया राहुल गांधी को दयालु और निर्भीक नेता
अभी हाल ही में कांग्रेस पार्टी में शामिल होने के बाद में कन्हैया कुमार ने राहुल गांधी के सपोर्ट में बोलना शुरू कर दिया है. कन्हैया ने कहा कि जब मेने राहुल गांधी से बातचीत की तो मुझे लगा कि वो एक दयालु नेता है. मुझसे अक्सर वो मेरी माँ के बारे में और मेरे पिता जी के स्वास्थ्य के बारे में भी पूछते रहते है.

आगे कन्हैया ने ये भी कहा कि वो एक इमानदार व्यक्ति है और जो लड़ाई वो लड रहे है उसमें इमानदारी है. राहुल गांधी अपने आप में एक निडर नेता है जो हमेशा बस यही चाहते है कि जीत सच की ही हो. इसके अलावा उन्होंने कांग्रेस की तारीफ़ में भी कई कसीदे पढ़े और ऐसा लगा मानो वो सालो से कांग्रेस के ही हो रखे हो.

सोशल मीडिया पर लोग कर रहे आलोचना
अब कन्हैया के कभी सपोर्टर रहे लोग उनकी आलोचना करते हुए उससे सवाल कर रहे है कि जब यही लोग वंशवाद से आजादी और तरह तरह के नारे लगाते थे तो क्या उस दायरे में गांधी परिवार औरकांग्रेस पार्टी नही आते थे जो आज उन्होंने बड़ी ही आसानी से न सिर्फ कांग्रेस पार्टी ज्वाइन कर ली बल्कि राहुल गांधी की तारीफ़ भी कर रहे है.

खैर अभी भी कन्हैया एक सामान्य कांग्रेस नेता की तरह ही है और इसके कारण से उनकी अपनी लेफ्ट पार्टी उनसे नाराज जरुर हो गयी है कि वो बीच राह में उनको छोड़कर के कांग्रेस के साथ में चले गये है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here