बार बार भाजपा और योगी जी के खिलाफ बोल रहे थे वरुण गांधी, अब पार्टी ने लिया बड़ा एक्शन

1
28469

अभी हम लोग काफी समय से भाजपा से कुछ पार्टी नेताओं के दूर होने की खबरे देख ही रहे है, सिद्धू पाजी और शत्रुघन सिन्हा जैसे कई बड़े नाम उसमे शामिल है और इसके पीछे उनके कई निजी हित रहे है ये भी साफ़ जाहिर है. अब अगर बात करे इन दिनों की तोअभी के समय में एक नेता है जो पार्टी में बगावती तेवरों के कारण से उनके पास में जो कुछ मौजूद है वो भी खोते चले जा रहे है और ये अपने आप में उनके करियर को ही नुकसान दे रहा है.

भाजपा की नयी राष्ट्रीय कार्यकारिणी की लिस्ट जारी, वरुण गांधी और उनकी माँ को भी नही मिली जगह
वैसे वरुण गांधी चाहकर के भी केबिनेट में अपनी जगह पक्की नही कर पाए थे ऐसा राजनीतिक एक्सपर्ट्स का मानना था और अभी हाल ही में उनके पास में जो था वो भी उनके हाथो से खिसकते हुए मालूम पड़ रहा है. अभी हाल ही में एक बड़ा अपडेट आया है जिसके अनुसार भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी के पदाधिकारियों की जो लिस्ट है उसमे वरुण गांधी या फिर उनकी माँ मेनका गांधी दोनों का ही नाम है.

हालांकि ये पहले दोनों ही इस बैठक में रहे है और पार्टी में इनको काफी अधिक महत्त्वपूर्ण चेहरे के रूप में भी देखा जाता रहा है इस बात में कोई भी संशय नही है लेकिन कहते है न कि वक्त सब कुछ बदल देता है और अभी ऐसा ही कुछ देखने में आ रहा है. वरुण धीरे धीरे धीरे भाजपा और इसके लोगो से दूर होते हुए नजर आ रहे है.

लखीमपुर खीरी मामले पर भी अपनी सरकार के पक्ष में नही दिखे थे वरुण
अभी हाल ही में जब लखीमपुर खीरी मामला हुआ था जिसमे किसानो की जान गयी थी उसमे भी वरुण गांधी अपनी सरकारों को बातो ही बातो में घेरते हुए नजर आये थे जिसके कारण से योगी सरकार असहज हो सकती थी क्योंकि कोई अपने ही अन्दर का सवाल साधे या कुछ कहे तो कैसे कुछ जवाब दे?

अब कई लोग कयास ये लगा रहे है कि कही वो फिर से कांग्रेस में तो नही जा रहे है? हालांकि अभी उनकी तरफ से ऐसा कोई भी संकेत नही दिया गया है लेकिन फिर भी आने वाले वक्त में संभावनाओं से इनकार नही किया जा सकता है.

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here