ममता ने जीत लिया उपचुनाव और बच गयी सीएम कुर्सी, भाजपा प्रत्याशी ने लगाये गंभीर आरोप

0
3235

पिछले कई महीनो से से एक चीज को लेकर के काफी अधिक चर्चा चल रही थी और वो थी बंगाल के उपचुनाव. इस बार के ये चुनाव बहुत ही अधिक महत्त्वपूर्ण इसलिए भी हो गये क्योंकि जिस तरह के हालात बनते हुए देखे गये है उस हिसाब से लग रहा था कि ममता बनर्जी के हाथ से सीएम पद की कुर्सी भी जा सकती है. ऐसा इसलिए हुआ क्योंकि ममता बनर्जी सुवेदु अधिकारी के सामने मुख्य विधानसभा चुनाव हार गयी थी और ये अपने आप में बहुत ही बड़ी खबर थी.

भवानीपुर से उपचुनाव जीत गयी ममता बनर्जी, बच गयी कुर्सी
अभी हाल ही की बड़ी खबर ये है कि भवानीपुर से उपचुनाव जो हुए थे उसमे ममता बनर्जी जीत चुकी है और ये अपने आप में काफी बड़ी खबर है. उनके सामने भाजपा की प्रत्याशी प्रियंका टिबरेवाल खड़ी हुई थी जिनको ममता बनर्जी ने कुल 58 हजार वोटो से हराया है और इसे वो एक बहुत ही बड़ी जीत भी बता रही है. खुद प्रियंका तिबरेवाल जी ने भी अपनी तरफ से हार स्वीकार कर ली है और ममता बनर्जी जीत चुकी है.

हालांकि ममता बनर्जी के पास में ये आखिरी मौका था. अगर वो इस बार भी हार जाती तो फिर कही न कही उनको मुख्यमंत्री पद से इस्तीफ़ा देना पड़ जाता. हालांकि वो चाहती तो अपने किसी भी विशवास के आदमी को सीएम की कुर्सी पर बिठाकर के खुद ही राज कर सकती थी लेकिन एक तरह से ये बेज्जती जैसा हो जाता जिससे वो बच चुकी है और अब उपचुनाव में जीतकर के वापिस आ गयी है.

प्रियंका बोली, मैन ऑफ द मैच मैं हूँ
जो प्रत्याशी ममता बनर्जी के सामने लड़ी उन प्रियंका तिबरेवाल का कहना है कि ममता बनर्जी चाहे इस चुनाव को जीत गयी है लेकिन कही न कही मैन ऑफ द मैच तो मैं हूँ. मेने ममता बनर्जी के गढ़ में जाकर के चुनाव लड़ा है और आखिर में कुल 25 हजार से ज्यादा मत भी मिले है. उनके उपाध्यक्ष तो फर्जी वोटरों को बूथ में घुसाते हुए दिखे थे.

यानी कही न कही प्रियंका जी का मोराल अभी भी काफी अधिक उंचा है और वो इस हार के बाद में भी अपने और अपने लोगो के साथ में बनी रहना चाहती है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here