चीन को ठेंगा दिखाते हुए भारत ने बड़ा फैसला ले लिया है

0
8271

भारत इन दिनों में एशिया में बहुत ही अधिक तीव्रता से उभर रही अर्थव्यवस्था है और ये बात तो हम लोग भी जानते है कि आने वाले वक्त में जिस दिशा में हिन्दुस्तान चल रहा है उसके साथ में हमारी शक्ति बढ़ने ही वाली है. अब अगर तेजी से आगे बढना है तो फिर इसके लिए जरूरी यही है कि लोगो के नाराज या फिर खुश होने की अधिक परवाह न करे और अपनी गति के साथ में आगे बढ़ते चले जाए. अभी हाल ही में इसी कारण से भारत ने एक बड़ा निर्णय लिया है जो शायद चीन को पसंद न आये.

भारत और ताइवान के बीच 56 हजार करोड़ की सेमीकंडक्टर डील
अभी हाल ही में भारत और ताइवान दोनों ही देशो के बीच में लगभग 56 हजार करोड़ रूपये की मेगा डील होने की खबर आ रही है जो अपने आप में एक बहुत ही बड़ा अमाउंट है और ताइवान के साथ में भारत का इसे एक ऐतिहासिक सौदा कहा जा रहा है. इसके अंतर्गत ताइवान की कम्पनियां भारत में आकर के सेमी कंडक्टर का निर्माण करेगी और न सिर्फ यहाँ की डिमांड को पूरा करेगी बल्कि विश्व के विभिन्न देशो में इसका निर्यात भी हो सकेगा.

सेमीकंडक्टर ही है विश्व का भविष्य, जिसके पास वो करेगा राज
आज जिस देश के पास में सेमीकंडक्टर है उसे ही तवज्जो मिलती है क्योंकि दुनिया का कोई भी इलेक्ट्रॉनिक्स का आइटम चाहे वो कंप्यूटर हो, लैपटॉप हो, कार हो, बाइक हो, हवाई जहाज हो या फिर रसोई में रखा मिक्सर ही क्यों न हो? सब कुछ अंत में सेमी कंडक्टर के कारण से ही चलता है और भारत में इसका निर्माण होने से भविष्य में भारत की कम्पनियां भी इसे बनाना सीख सकती है और दुनिया पर राज कर सकती है. ताइवान और चीन की सफलता का एक बड़ा कारण इसी को माना जाता है.

चीन है इस डील से नाराज, ताइवान से भारत की करीबी को लेकर चिंता में
अभी के लिए चायना काफी अधिक नाराज है क्योंकि भारत ताइवान से इतनी बड़ी बड़ी डील साइन कर रहा है, ऐसे में अगर भारत का बहुत सारा पैसा ताइवान के साथ में इन्वोल्व हो जाता है और दोनों देशो के बीच व्यापार खड़ा हो जाता है तो कल को भारत ताइवान पर चीन को कब्जा करने से रोकने के पक्ष में खड़ा हो जाएगा.

हालांकि अभी भी अमेरिका, जापान और ब्रिटेन जैसे देश ताइवान को सपोर्ट कर रहे है और अगर भारत की इतनी बड़ी बड़ी डील ताइवान से साइन हो जाती है तो फिर ऐसे में जाहिर सी बात है कि भारत इस देश को चीन से बचाकर के रखना चाहेगा जिसे वो कब्जाना चाहता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here