महंत नरेंद्र गिरि को लग रहा था इस बात का डर, योगी आदित्यनाथ ने दिया मामले पर बड़ा बयान

0
1466

अखाड़ा परिषद् के अध्यक्ष और जाने माने संत महंत गिरि जी का अभी हाल ही में निधन हो गया. उनके जाने की खबर अपने आप में संत समाज के लिए काफी अधिक दुःख से भरी हुई थी क्योंकि किसी ने भी ये कल्पना तो नही की थी कि अचानक से इस तरह की घटना देखने में आ जायेगी. महंत नरेंद्र गिरी जो कि राम मंदिर निर्माण में भी काफी अहम् व्यक्ति माने जाते है उनका  आकस्मिक देहांत हो गया और उनका एक पत्र है जो सामने आया है और ये और भी बड़ी गुत्थी को जन्म देता है.

आनंद गिरि पर आरोप, लड़की से साथ मेरी तस्वीर वायरल कर देगा
महंत जी ने अपनी जान देने से पहले एक पत्र लिखा है और इसमें उन्होंने जो बाते लिखी है वो कही न कही बहुत ही अजीब भी है. उन्होंने अपने शिष्य आनंद गिरि पर खुदको बदनाम करने की कोशिश का आरोप लगाया है. कथित लैटर के मुताबिक़ उनके पास सूचना मिल चुकी  थी कि आनंद गिरि किसी लड़की के साथ में कंप्यूटर के माध्यम से उनकी तस्वीर वायरल कर देगा. इस कारण से उन्होंने इस तरह का कदम उठा लिया.

योगी आदित्यनाथ बोले, रहस्य से जल्द परदा उठ जायेगा
इस मामले में खुद सीएम योगी आदित्यनाथ निजी तौर पर केस को देख रहे है और पुलिस अधिकारियों से अपडेट भी ले रहे है. उन्होने कहा है कि नरेंद्र गिरी जी के मामले में पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी मिलकर के काम कर रहे है और इसमें सबूत भी जुटा लिए गये है.

एक एक घटना का पर्दाफाश होगा और सारे रहस्य पर से पर्दा उठ जाएगा. अभी के लिए आप जांच एजेंसियों को अपना काम करने दे. जो भी लोग इस घटना के दोषी है उनको बिलकुल भी बख्शा नही जायेगा. कानून अपना काम कर रहा है. सीएम योगी के रहते इस केस के जल्द ही निपट जाने की उम्मीद है.

अभी के लिये सिर्फ योगी जी ही नही बल्कि यूपी केबिनेट के विभिन्न मंत्रियो से लेकर के पीएम मोदी भी इस बात को लेकर के स्तब्ध है. कोई भी इस बात को लेकर के यकीन नही कर पा रहा कि इतने बड़े अखाड़ा परिषद् के मुखिया और महंत ऐसा कदम उठा सकते है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here