कश्मीरी पंडितो के लिये मोदी सरकार का ऐतिहासिक निर्णय, 370 के बाद एक और बड़ा शानदार कदम

0
7001

हम देख रहे है कि पिछले कुछ समय से मोदी सरकार लगातार अपने एजेंडे के हिसाब से काम कर रही है और इसके कारण से बहुत से लोगो को उम्मीद भी जग रही है और कही न कही इससे वो लोग जो देश के खिलाफ काम करने की सोचते है उन लोगो को भी झटका तो लगता ही है. अगर अभी की बात की जाए तो हाल ही में मोदी सरकार का फोकस कश्मीर पर आ गया है और इसका अंदाजा हम लोग उनके कुछ के निर्णयों की मदद से लगा सकते है. ये काफी अधिक मददगार कश्मीरी पंडितो के लिये होने जा रहा है.

कश्मीरी पंडितो के लिए वेबसाइट होगी लांच, यहाँ पर अपनी जमीन को लेकर कर सकेंगे शिकायत
अभी हाल ही में सरकार की तरफ से निर्णय लिया गया है कि जो भी कश्मीरी पंडित अपनी भूमि से विस्थापित हो गये है उनको वापिस से जम्मू कश्मीर में बसाया जाएगा और इसके लिए एक वेबसाइट लांच की जा रही है. यहाँ पर ये सब लोग उस जमीन से समबन्धित शिकायत दर्ज करवा सकेंगे जिन पर मालिकाना हक उनका है लेकिन आज वहां पर कोई और जाकर के गैर कानूनी तरीके से कब्जा करके बैठा हुआ है.

15 दिन में जमीन की करनी होगी पहचान, दिलाने की प्रक्रिया भे करेगा प्रशासन
अब इस पूरी प्रक्रिया में आवेदन मिलते ही 15 दिनों के अन्दर प्रशासन को जाकर के कश्मीर में उस जमीन की पहचान करनी होगी जिस जमीन पर कश्मीरी पंडित ने दावा किया है और अगर उसका दावा सही निकलता है तो फिर उसे कागजी दस्तावेजो के आधार पर फिर से उसकी जमीन दिलवा दी जायेगी.

इससे कश्मीरी पंडितो के पुनर्वास का एक व्यवस्थित कार्यक्रम हो सकेगा और जो आज से लगभग तीस साल पहले इन लोगो के साथ में अन्याय हुआ था उसको भी फिर से सही करने की दिशा में बड़ा कदम उठाया जाएगा ये हम लोग मान सकते है.

सड़के और स्कूल भी हस्तियों के नाम पर
इसके अलावा कश्मीर में एक और बड़ा बदलाव देखने को मिल रहा है वो है नामकरण. कश्मीर में वहां के स्कूलों और सडको के नाम कश्मीर में शहीद हुए जवानों और कई बड़ी हस्तियों के नाम पर रखे जायेंगे जो देश के लिए कुछ करके गये है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here