चीन को खुश करने के लिये तालिबान ने उठाया बड़ा कदम, बिक सकता है अफगानिस्तान का बड़ा हिस्सा

0
1557

अभी अफगानिस्तान में क्या कुछ हालात बन चुके है ये तो हम लोग देख ही रहे है और इस कारण से वहां पर स्थिति को लेकर के भारत भी काफी गंभीरता के साथ में विचार कर रहा है. मगर कही न कही तालिबान ये भी समझ गया है कि उसके खुदके पास तो कोई पैसा है नही तो इसके लिए उसे किसी बड़े देश के आगे पीछे घूमना पड़ेगा और इसके लिए उसने इस बार चीन को चुना है जो छोटे देशो को बड़े आसानी से पैसा दे सकता है.

सीपैक का हिस्सा बनना चाहता है तालिबान, अफगानिस्तान की जमीन पर होंगे चीनी लोग
अभी हाल ही में तालिबान ने कहा है कि हम अब सीपैक यानी चाइना पाक इकनोमिक कोरिडोर का हिस्सा बनना चाह रहे है. इसके लिए वो चीन से रिक्वेस्ट भी करेंगे कि उनको इसका हिस्सा बना ले. ये चीन और पाक के बीच में चल रहा प्रोजेक्ट है जिसमे चीन पाक को एक तरह से कर्ज देता है और वहां पर इकनोमिक रास्ते तैयार करता है. ये पैसा उनके देश की चुका पाने की हैसियत से भी कई ज्यादा होता है.

कर्ज लौटा न पाने की स्थिति में रखना होगा गिरवी
अब ऐसे में अगर तालिबान अफगानिस्तान में भी ऐसा ही करता है तो एक बात तो सब जानते है कि आज की डेट में अफगानिस्तान के पास में कर्ज लेने के बाद में लौटाने के लिए तो कुछ भी नही बचा है. ऐसे में चीन का ये कदम जैसे ही अफगान की धरती पर पड़ेगा वैसे ही ये उसकी जमीन अपने हिस्से ही ले लेगा. ऐसा वो श्रीलंका जैसे देशो के साथ में कर चुका है.

हाँ मगर अभी इन सब चीजो में कुछ समय तो लगने ही वाला है, पर अगर यही सब चलता रहा तो फिर वो वो दिन भी दूर नही है जब अफगानिस्तान को संभव है अपने देश की जमीने चीन को भविष्य के लिए मुफ्त में लीज में देनी पड़े ताकि वो आर्थिक बोझ कम कर सके.

भारत समेत दुनिया के कई देश इस डेवलपमेंट को लकर के काफी अधिक चिंतित है लेकिन ये बात तो अधिकतर लोग जानते है कि एक न एक दिन तो ये होना ही तह क्योंकि जहाँ अमेरिका के बिलियन डॉलर बहाने के बाद भी कुछ नही हो सका वहां पर कोई क्या उम्मीद कर सकता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here