कौन बनेगा उत्तर प्रदेश में मायावती का उत्तराधिकारी? दिया ये जवाब

0
1951

मायावती आज के टाइम में चाहे उत्तर प्रदेश की राजनीति में काफी हद तक साइड लाइन हो चुकी है लेकिन फिर भी उनकी अपनी एक बड़ी पहचान तो है और इस बात को कोई भी नकार नही सकता है. कही न कही दलितों के बीच में आज भी मायावती की अपनी एक अच्छी खासी पैठ है जिसके लिए उनको माना जाता है. अभी काशीराम की जगह पर वो है और सवाल ये है कि उनकी जगह पर आखिर कौन आएगा? इस पर पहली बार कुमारी मायावती ने अपनी तरफ से चुप्पी तोड़ी है.

दलित ही बनेगा मेरा उत्तराधिकारी
अभी हाल ही में कुमारी मायावती ने एक बड़ा ऐलान करते हुए कहा है कि एक दलित व्यक्ति ही मेरा उत्तराधिकारी बनेगा. मेरा स्वास्थ्य अभी फ़िलहाल के लिए ठीक है और मुझे अभी के लिए किसी को उत्तराधिकारी बनाने की जरूरत नही है लेकिन जब मेरा स्वास्थ्य ठीक नही रहेगा तब मैं ऐसा जरुर करुँगी. मैं अभी फिट हूँ और मुझे अभी कुदरत की मेहरबानी है कि कुछ भी नही हुआ है. आगे मायावती ये भी कहती है कि पार्टी का उत्तराधिकारी एक दलित वर्ग से ही होगा और वो होगा जिसने हमेशा पार्टी का साथ दिया हो.

कांग्रेस की तरफ बढ़ रही दलितों की भीड़ के चलते मायावती पर बढ़ा दवाब
दरअसल इन दिनों में कांग्रेस पार्टी के पास में दलितों के अलावा खीन्चने के लिए कोई भी स्पेशल वोट बैंक बचा नही है और इस कारण से वो लगातार दलितों की भीड़ अपने कार्यक्रमों में जुटा रही है और मायावती को टार्गेट कर रही है जिसके दबाव में मायावती को ये सब बोलना पड़ रहा है.

अभी के लिए मायवती के बाद में बसपा की कमान किसके हाथ में जाएगी ये तो स्पष्ट नही है क्योंकि इसी पार्टी में कई ब्राह्मण नेता और विधायक भी है तो इस तरह के जातिगत बयान से क्या वो खिन्न नही होंगे?

अभी के लिए इस पार्टी का भविष्य कुछ अधिक स्पष्ट नही है और इसके पीछे का कारण यही है कि अभी के लिए काफी कुछ है जो यूपी की राजनीति में बदलते हुए नजर आने लग रहा है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here