मोदी की एक स्कीम ने चीन और अमेरिका दोनों को ही पस्त करके रख दिया है

0
6726

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को हमेशा से ही एक बहुत विजनरी नेता के रूप में जाना जाता है और कही न कही इस कारण से आज वो एक ग्लोबल लीडर के रूप में स्थापित हो रहे है जिन्होंने बहुत कुछ है जो हासिल भी किया है और कही न कही एक विजय है जिसका सेहरा कही न कही मोदी के सर पर बंधना बन रहा है क्योंकि अभी भारत एक चीज में तो कम से कम अमेरिका और चीन दोनों को एक साथ में पस्त करता चला जा रहा है क्योंकि सरकार काफी जोर शोर से काम कर रही है.

पीएलआई स्कीम का कमाल, भारत बन रहा मोस्ट फेवरेबल मेनुफेक्चारिंग हब
आज की डेट में अमेरिका को पछाड़ते हुए भारत उससे भी ज्यादा फेवरेबल और सबसे ज्यादा पसंद किया जाने वाला मेनुफ्क्चारिंग के लिए अट्रेक्शन हब बन चुका है और चीन को भी कड़ी टक्कर देते हुए अब भारत काफी अधिक अच्छे से नजर आ रहा है जिससे किसी भी वक्त उसकी बादशाहत छिन सकती है. कई सारे देशो को भारत पहले ही पछाड़ चुका है और कम्पनियों के लिए सबसे पसंदीदा निर्माण स्थल बन रहा है.

पीएलआई स्कीम बनी है कारगर
आज मोदी सरकार की स्कीम इस मामले में काफी कारगर बन रही है क्योंकि सभी कम्पनियों को भारत में निर्माण के लिए इंसेंटिव दिए जा रहे है जो काफी अधिक आकर्षक है. इस कारण से सैमसंग से लेकर विस्त्रोन जैसी कम्पनियां चीन जैसे देश को छोड़कर के भारत की तरफ मूव कर रही है और अमेरिका व यूरोप का तो नम्बर ही नही नजर आ रहा है.

सस्ती मजदूरी और सरकार का सपोर्ट भी है प्रमुख वजह
आज की डेट में भारत ने ये जो मुकाम हासिल किया है उसके पीछे का एक बड़ा और प्रमुख कारण सरकार की तरफ से लगातार मिल रहा सपोर्ट भी है जिसके कारण से कम्पनियों को जमीन अधिग्रहित करने और लोजिस्टिक्स आदि में काफी अधिक मदद मिल जाती है. इसके अलावा मजदूरी तो भारत में वैसे भी काफी सस्ती है.

कही न कही भारत की इकॉनमी को इससे काफी बड़ा बूस्ट मिल रहा है और माना जा रहा है इसके कारण से आने वाले वक्त में लाखो लोगो को सीधे तौर पर रोजगार महज एक ही साल के भीतर मिल सकता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here