एक एक पैसे को तरस जायेगा तालिबान, अमेरिका और वर्ल्ड बैंक ने लिया बड़ा फैसला

0
3043

अभी के लिए अफगानिस्तान में तालिबान का शासन तो आ चुका है और इसके कारण से अफगानिस्तान के लोगो की हालत बहुत ही अधिक खराब हो चुकी है और ये अपने आप में काफी अधिक टेंशन वाली बात है क्योंकि इससे एशिया से लेकर अफ्रीका और यूरोप में भी अस्थिरता फ़ैलने का अंदेशा बन रहा है. इसके लिए अब तालिबान पर लगाम लगानी जरूरी हो गयी है और इसके लिए अब वर्ल्ड बैंक और अमेरिका जैसे ग्लोबल पॉवर आगे आ रहे है ताकि कुछ जल्द से जल्द किया जा सके.

वर्ल्ड बैंक ने रोकी अफगानिस्तान की सारी आर्थिक सहायता
अभी आपको मालूम हो तो अफगानिस्तान का पूरा देश वर्ल्ड बैंक की तरफ से आने वाली आर्थिक मदद से ही चलती है. जिस तरह के हालात अभी के लिए अफगानिस्तान में बने है उसे देखते हुए वर्ल्ड बैंक की तरफ से निर्णय लिया गया है कि अफगानिस्तान को दिया जाने वाला सारा पैसा और आर्थिक मदद तुरंत प्रभाव से रोकी जाती है. इससे अब अफगानिस्तान के पास में जो पैसा पहुँच सकता था और जिससे तालिबान फल फूल सकता था वो रूक चुका है.

अमेरिका भी फ्रीज कर चुका है अफगान सरकार की एसेट्स
अफगान सरकार की एसेट्स जो लगभग 9 बिलियन डॉलर की थी उसे भी अमेरिका ने पूरी तरह से फ्रीज कर दिया है. अगर ये खजाना तालिबान के हाथ लग जाता तो वो बहुत ही बड़ी ताकत बन जाता और इसकी मदद से वो और भी अधिक बुरे और खतरनाक वीपन खरीद लेता लेकिन अब तालिबानियो के हाथ खाली रह गये है.

ब्रिटेन भी चाहता है, दुनिया तालिबान पर प्रतिबन्ध लगाये
अभी के लिये दुनिया भर में ब्रिटेन काफी अधिक आक्रामक रूप अपनाए हुए है और ये चाह रहा है कि तालिबान के ऊपर प्रतिबन्ध लगाकर के इसको पैसे के लिए तरसा दिया जाए और ये इसके बाद में अपने आप ही कमजोर हो जाएगा. कही न कही इसके कारण से स्थिति बहुत ही ज्यादा कमजोर हो सकती है.

कही न कही जो कुछ भी हुआ है उसको देखकर के ये तो लगने लगा है कि आर्थिक रूप से तालिबान इतना सक्षम कभी नही हो पायेगा कि वो पूरा देश संभाल सके और आखिर में उसे प्रतिरोध का सामना करना पड़ेगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here