एक छोटे से देश ने चीन की बखिया उधेड़ दी, जिनपिंग लेना चाहते है बदला

0
5353

चीन का आज पूरे विश्व में दबदबा बन चुका है क्योंकि उसके पास में मजबूत इकॉनमी से लेकर मजबूत सेना और सब कुछ है जिसके कारण से हर कोई उसके सामने घुटने टेक देता है. हालत तो आज ये हो गयी है कि अमेरिका जैसा शक्ति संपन्न देश भी चीन को लेकर के चिंतित है और उसकी कई पालिसी को मान भी लेता है मगर एक छोटा सा देश जिसकी आबादी बहुत ही कम है और उसने चीन की हालत ग्लोबल लेवल पर खराब करके रख दी है.

यूरोप का देश है लिथुआनिया, ताइवान को अपने नाम से ऑफिस खोलने की इजाजत देकर चीन की बेज्जती कर दी
आपको ये तो मालूम ही होगा कि चीन एक ‘वन चाइना पालिसी’ फॉलो करने के लिए कहता है जिसके तहत चीन का कहना है कि कोई भी देश जो ताइवान का ऑफिस या फिर दूतावास अपने देश में खोलने देगा वो हमसे कोई रिश्ता नही रखेगा. चीन के दबाव के कारण कोई भी देश ऐसा नही करता है, मगर लिथुआनिया ने कुछ अलग और हटकर करने निर्णय किया और ताइवान को इस देश में अपने ‘ताइवान रिप्रेजेंटेतिव ऑफिस’ नाम से एक बिल्डिंग खड़ी करने की इजाजत दे दी.

चीन ने दी अंजाम भुगतने की चेतावनी, तो अमेरिका और सब देश आ गये लिथुआनिया के साथ
जब लिथुआनिया ने ऐसा काम किया जिससे ये साबित होता है कि ताइवान चीन का हिस्सा नही है तो ऐसे में फिर चीन ने डायरेक्ट तौर पर लिथुआनिया को ये वार्निंग दे दी कि अब वो अंजाम भुगतने के लिए तैयार हो जाए. इस पर अमेरिका लिथुआनिया के सपोर्ट में आ गया और कहने लगा छोटा देश समझकर के लिथुआनिया को डराने की कोशिश न की जाए ये एक नाटो का मेंबर देश है.

यही नही यूरोपियन युनियन ने भी लिथुआनिया का समर्थन किया है और खुद लिथुआनिया ने भी चीन को चेतावनी देते हुए कह दिया है तुम जो उखाड़ सकते हो उखाड़ लो, हम तो अपने देश में ताइवान का ऑफिस अब खुलवायेंगे. अगर प्यार से बोला होता तो सुन भी लेते लेकिन धमकी तो हम किसी की भी बर्दाश्त नही करेंगे.

अब चीन एक छोटे से देश के आगे हो गया बेबस, हुई गजब बेज्जती
अब चीन लिथुआनिया को छोटा मोटा इकनोमिक नुकसान जरुर दे सकता है लेकिन इसके अलावा वो कुछ कर नही पा रहा है और इस कारण से उसकी दुनिया भर में जमकर के बेज्जती हो रही है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here