पूरे अफगानिस्तान पर कब्ज़ा करने के बाद भी नही मिली फूटी कौड़ी, तालिबान के हाथ से निकला खजाना

0
13595

अभी आपको मालूम ही होगा कि अफगानिस्तान वो देश नही रहा जो पहले कभी एक टाइम में हुआ करता था अब वहाँ पर लगभग सब कुछ बदल चुका है और उस मुल्क में चीजे बहुत ही अलग तरीके से काम करने लगी है. जिस तरह से सब कुछ मानो बदल सा गया है वो हर किसी को चिंतित तो कर ही रहा है. अब सबको लग रहा है कि तालिबान के हाथ में सब कुछ लग गया है और ये लोग चीजो को अपने हिसाब से बदल देंगे, मगर अभी के लिए आप इस मामले में थोडा गलत सोच रहे है.

तालिबान के हाथ से निकला अफगान सरकार का खजाना, अमेरिका ने फ्रीज किये 9.5 बिलियन डॉलर
अभी जैसे ही कोई व्यक्ति सत्ता में आता है तो आम तौर पर उसके हाथ में उस सरकार का खजाना यानी उसके रूपये पैसे भी लग ही जाते है मगर आपको शायद पता नही होगा कि अफगान सरकार के केन्द्रीय बैंक का सारा पैसा यानी लगभग 9.5 बिलियन डॉलर अमेरिका में पड़े हुए है जो वहां की बैंक में है और उसे अमेरिकी सरकार ने फ्रीज कर दिया है. यानी अब तालिबान अफगानिस्तान के इन पैसो को निकाल नही पायेगा.

अब सरकार कैसे चलाएगा तालिबान, हाथ में पैसा नही
ऐसे में तालिबान के पास में हाथ मलने के अलावा कुछ रह नही गया है क्योंकि देश को बिना पैसे के चला पाना मुश्किल है. अगर ये पैसा उसके हाथ में लग जाता तो वो इससे काफी कुछ कर सकता था और ऐश भी इनकी कई सालो  तक चल जाती लेकिन अब ऐसा नही हो पायेगा. अमेरिका इस पैसे को अफगानिस्तान में नयी लोकतांत्रिक सरकार आने तक होल्ड करके भी रख सकता है और इनको एक फूटी कौड़ी भी नही मिलेगी.

अब तालिबान के पास एक ही रास्ता, लोगो से मुफ्त में काम करवाए या फिर अपनी जमीने लीज पर दे
अब तालिबान के पास में जब एक भी रूपया नही है तो उनके पास में रास्ता यही बचता है कि या तो वो लोगो से मुफ्त में काम करवाए जो ज्यादा वक्त तक चलेगा नही या फिर चीन जैसे देशो को अपनी जमीने लीज पर दे दे जिससे उन्हें कुछ पैसा मिलेगा और वो अपना काम चला पायेंगे.

हालाँकि दोनों ही सूरत में इनकी हालत खराब ही होने वाली है ये बात कही न कही तय तौर पर मानी जा सकती है. कुल मिलाकर सत्ता में आकर के भी तालिबान के हाथ में अभी कुछ ख़ास खजाना लग नही पाया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here