तालिबान की खबरों के बीच योगी सरकार का बड़ा निर्णय, सुरक्षा से कोई समझौता नही

0
13869

अभी आपको ये तो मालूम ही होगा कि अभी  अफगानिस्तान में क्या कुछ हो गया है और ये पाने आप में सारे विश्व को चिंता में डाल रहा है. कही न कही मजहब को लेकर जो अतिवाद की सीमा है उसके कारण देश के देश इस कगार पर आकर के खड़े हो गये है. इस लिस्ट में पहले मिडल ईस्ट के कई मुल्क तो शामिल थे ही और अब अफगानिस्तान भी उसी लिस्ट में आ गया है. मगर इन सब चीजो के बीच में भारत को भी अपने हिसाब से कुछ सोचना समझना और निर्णय करना होगा.

उत्तर प्रदेश के देवबंद में बनेगा एटीएस कमांडो सेंटर, 2000 वर्गमीटर जमीन अलोट भी कर दी गयी
उत्तर प्रदेश में अभी हाल ही में योगी सरकार का निर्णय सामने आया है कि देवबंद में एक एटीएस कमांडो सेंटर स्थापित किया जाये. इसके लिए शुरुआती और तुरंत तौर पर डेढ़ दर्जन दर्जन के करीब कमांडोज की ट्रेनिंग और तैनाती की जायेगी और बादमे धीरे धीरे इसका विस्तार भी हो सकता है. इसके लिए दो हजार वर्गमीटर जमीन भी अलोट कर दी गयी है.

इस कमांडो सेंटर का उपयोग मुख्य रूप से हम समझ सकते है कि कुछ विशेष परिस्थितियों में ही किया जाता है जिसमे कुछ लोग शासन प्रशासन के ऊपर चढ़कर के अपनी बातो को मनवाने या फिर अपनी हुकूमत बनाने की कोशिश करते है जैसे तालिबान ने भी की है. अब भारत के पास में इतने वफादार और ट्रेन किये हुए कमांडो है और इनको देवबंद जैसे संवेदनशील इलाको में रखा जाएगा तो फिर कोई बदमाशी करने की तो भूलकर के भी नही सोच पायेगा.

अभी स्थिति इतिहास में सबसे अधिक बेहतर
हालांकि अभी स्थिति इतिहास उठाकर के देखे तो सबसे अधिक बेहतर है. यूपी से लेकर देश के विभिन्न राज्यों में अपराध का ग्राफ कुछ हद तक कमजोर हुआ है, देश को विभाजित करने की बात करने वाले या तो कही समाप्त हो चुके है या फिर उनके पास में कोई रिसोर्स ही नही बचा है तो ऐसे में भारत अभी ऐसी कोई भी हालात फेस करने वाले समय में नही है.

हालांकि नजरअंदाज कुछ भी नही किया जाना चाहिए, इसलिए योगी सरकार अभी देवबंद में एक शानदार एटीएस कमांडो सेंटर बना रही है जो इस पूरे एरिया में सख्त तौर पर लॉ एंड आर्डर को बहुत ही अच्छे से मेंटेन करके रखने वाला है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here