पीएम मोदी ने देश में सोने को लेकर 31 अगस्त से बड़ा नियम लागू कर दिया है

0
9404

भारत देश में चाहे  मध्यमवर्गीय परिवार हो या फिर अमीर परिवार हो सभी लोगो को सोने का शौक तो होता ही है और ख़ास तौर पर महिलाएं तो ज्वेलरी पहनने की भरपूर शौक़ीन होती है. इस कारण से आपने देखा ही होगा कि वो खूब सारी ज्वेलरी आदि पहने हुए नजर आती है. इस वजह से सोने को सरकार के द्वारा ठीक तरीके से रेगुलेट किया जाना भी जरूरी है क्योंकि अगर ऐसा नही होगा तो फिर इसमें भी गलत काम और बदमाशी होने के चांस बढ़ जायेंगे. ऐसे में इनको नियमित करना बहुत ही अधिक जरूरी है.

अब से बिना हॉलमार्क के नही बिकेगा सोना, 31 अगस्त की रात से नियम लागू
अभी हाल ही में मोदी सरकार ने एक बड़ा नियम लागू कर दिया है जिसके तहत 31 अगस्त के बाद में यानी 1 सितम्बर की सुबह से जो भी सर्राफा बाजार की बड़ी दुकाने खुलेगी उनको सिर्फ और सिर्फ हॉलमार्क लगा हुआ सोना बेचना होगा जिसमे सोने के बिस्किट, सिक्के और ज्वेलरी आदि आते है. जो पिछ्ला  स्टॉक है उस पर ये नियम जरूरी नही होगा लेकिन आगे से आप जो भी खरीदी और बेचान करेंगे उसमे ये करना हॉलमार्क लगाना होगा.

सोने की शुद्धता बनी रहेगी, ग्राहक धोखाधड़ी से बचेंगे
सरकार ने हॉलमार्क को इसलिए अनिवार्य कर दिया है क्योंकि इसके बिना बिकने वाले सोने में अक्सर मिलावट हो जाती थी और ग्राहक ठगी का शिकार हो जाते थे और इसके मामले में कोर्ट में भी लंबित रहते थे. मगर अब हॉलमार्क लगे हुए गोल्ड में शुद्धता प्रमाणित होगी और ग्राहकों को इसे वापिस बेचते समय कॉस्ट कटिंग का सामना भी नही करना पड़ेगा जो लोगो के हक़ में ही है.

दुकानदारों पर पड़ेगा बोझ, अतिरिक्त खर्च करना होगा
इससे दुकानदारों के ऊपर अतिरिक्त खर्च पड़ेंगे जैसे हॉलमार्क करवाने के लिए सेंटर का  उपयोग करना और उसके लिए अलग से स्टाफ रखना इससे उनके लिये सोने से गहने आदि बनाने करने की लागत थोड़ी सी बढ़ जायेगी और ऐसे में ये सोने के व्यापारी अंत में ये खर्च ग्राहक के ऊपर ही डालने वाले है, लेकिन कम से कम इसके बदले सोने के शुद्ध होने की गारंटी तो मिल ही जायेगी.

हालांकि इसमें छोटे और मामूली सोने के व्यापारी जिनका 40 लाख से कम का व्यापार होता है उनको इस सोने से छूट दी गयी है मगर इस तरह के सोने के दुकानदार काफी गिने चुने हुए से ही है तो ऐसे में अधिकतर लोगो पर ये नियम लागू होने वाला है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here