मोदी ने बैठे बैठे चीन और अमेरिका को आपस में लडवा दिया, फिर देखने लगे तमाशा

0
2684

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हमेशा से ही अपनी तेज बुद्धि के लिए जाने जाते है जिस तरह से वो अपने कार्यो को अंजाम देते है और हर तरह से खुदको कई न कही एक सफ़ल राजनेता के तौर पर उभारते हुए नजर आते है वो अपने आप में गजब ही कहा जाता है और ये बात तो हम लोग भी बखूबी जानते ही है. अभी इंटरनेशनल लेवल पर भी पीएम मोदी ने कुछ ऐसा ही नजारा दिखाया जिसके कारण से दुनिया भर के लोग उनके मुरीद हो गये है आखिर पीएम ने पासा ही कुछ ऐसा फेंका है.

सुरक्षा परिषद् में पीएम मोदी ने की मीटिंग की अध्यक्षता, रख दिया समुद्री सुरक्षा का मुद्दा
पीएम मोदी ने इतिहास में पहली बार सयुंक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद् की बैठक की अध्यक्षता की थी. इस दौरान भारत के पास में पूरी स्वतंत्रता थी कि वो जिस भी मुद्दे पर बोलना चाहता है या फिर मीटिंग में बात करना चाहता है उस मुद्दे पर बात कर सकता है और इस बार पीएम मोदी ने मेरीटाइम सिक्यूरिटी यानी समुद्री सुरक्षा का मुद्दा उठा दिया. समुद्र में जो जहाज तैरते है उनको कोई रोक टोक नही करे और वो सुरक्षित महसूस करे इस पर बैठक हुई.

पीएम के बैठक शुरू करते ही चीन पर बरस पड़ा अमेरिका
जैसे ही पीएम मोदी ने बैठक शुरू करवायी वैसे ही अमेरिका के विदेश मंत्री जो बैठक में हिस्सा बन रहे थे वो चीन पर बरस पड़े. उन्होंने कहा कि एक देश(चीन) है जो साउथ चाइना समंदर में आस पास के पड़ोस के देशो की नावो को और जहाजो को रोक रहा है उनको डरा रहा है. ये फ्रीडम ऑफ नेविगेशन के खिलाफ हो रहा है. अगर कोई देश ऐसा करेगा तो हम परेशान हो रहे देश के साथ में खड़े रहेंगे.

चीन ने भी पलटकर दिया जवाब, कहा सबकी जड अमेरिका
अभी चीन समेत दुनिया के बड़े बड़े देश इस बैठक का हिस्सा बने हुए थे तो वो भला अपनी बेज्जती कैसे बर्दास्त कर लेता? इस वजह से चीन ने भी पलटकर के जवाब देते हुए कहा कि इन सबकी जड खुद अमेरिका ही है. ये लोग जहाँ भी जाते है वहां पर विवाद फैलाते है. इन्होने साउथ चाइना समंदर के इलाके में अपने सबमरीन वगेरह भेजने शुरू कर दिए ताकि चीन को उकसाया जा सके. हम ये सब बर्दाश्त नही करेंगे.

इस तरह से लगातार चीन और अमेरिका के बीच आपस में तू तू मैं मैं होती रही और पीएम मोदी लम्बे समय तक सिर्फ अध्यक्ष पद की कुर्सी पर बैठकर के इस नज़ारे को देखते रहे. आगे पीएम और भी कई बैठके अध्यक्ष होने के नाते आयोजित करने वाले है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here