नितिन गडकरी भारत में वो करने जा रहे है, जो इतिहास में कभी नही हो सका

0
6056

नितिन गडकरी भारत के अब तक के सबसे बेहतरीन ट्रांसपोर्ट और हाईवे मंत्रालय के तौर पर जाने जाते है. उन्होंने कई ऐसे काम किये है जिसके कारण से उनकी आज बहुत ही अधिक तारीफ़ की जाती है और मोदी सरकार में भी वो काफी अधिक जुझारू नेता के तौर पर प्रतिष्ठित माने जाते है इस बात में कोई भी संशय नही है. अभी हाल ही में नितिन गडकरी भारत में एक बहुत ही बड़ा रिवोल्यूशन लाने की कोशिश कर रहे है जो अब तक अमेरिका जैसे देशो में ही हुआ करता था.

भारत में फ्लेक्स फ्यूल गाड़ियाँ लाने की तैयारियां, पेट्रोल पर निर्भरता हो जायेगी सीमित
नितिन गडकरी ने हाल ही में व्हीकल बनाने वाली कम्पनियों के साथ में एक मीटिंग की है और उन पर जोर डाला है कि अब भारत में भी फ्लेक्स फ्यूल व्हीकल लाये जाए. अगर ये भारत में आ जाते है तो हो सकता है भारत में गाड़ियाँ चलाने के लिए जो पेट्रोल आदि पर निर्भरता है वो आधे से भी कम हो जाए, क्योंकि दुनिया के बहुत से देश है जो पहले से ही ऐसा कर चुके है और ये एक सफल मॉडल है.

क्या होता है फ्लेक्स फ्यूल ईंजन
भारत में जिस फ्लेक्स फ्यूल इंजन को लाने की बात कर रहे है उसकी गाडी में एक ही टैंक में अलग अलग तरह के ईंधन डाले जा सकते है जैसे पेट्रोल के अलावा एथेनोल, एथेनोल ब्लेंडेड पेट्रोल आदि का इस्तेमाल हो सकेगा. इससे आपको अपनी गाडी अगर पेट्रोल या डीजल पर चलानी है तो उस पर चला सकते है और किसी अन्य बायो फ्यूल पर चलानी है तो उस पर चला सकते है. भारत अभी सिर्फ 10 से 20 प्रतिशत तक ये करने की कोशिश कर रहा है लेकिन भविष्य में ये आंकड़ा और अधिक विशालकाय हो सकता है.

अमेरिका कनाडा और ब्राजील जैसे देशो में हो रही इस कारण से चांदी
दुनिया के कई बड़े बड़े देश है जहाँ पर लाखो की करोडो की संख्या में फ्लेक्स फ्यूल गाड़ियाँ चल रही है और वहाँ पर तो 80 प्रतिशत तक एथेनोल और सिर्फ 15 प्रतिशत पेट्रोल इस्तेमाल हो रहा है जिससे उनकी पेट्रोल जैसे कार्बन फोसिल फ्यूल पर निर्भरता खत्म हो गयी है. इससे न सिर्फ लोगो की जेब पर भार कम पड़ रहा है बल्कि प्रदूषण जो होता था वो भी इससे नगण्य स्तर पर चला जाता है.

कारो में 6 एयरबैग स्टैण्डर्ड पर भी बात
नितिन गडकरी एक और बड़ा काम करने के ऊपर जोर दे रहे है वो है कारो में एयरबैग. दरअसल गडकरी जी कोशिश कर रहे है कि सभी गाडियों का एक स्टैण्डर्ड बना दिया जाए कि एक कार में कम से कम छः एयर बैग तो होने ही चाहिये. ऐसा हो जाता है तो देश में कई लोगो की जान बच सकती है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here