जनता के सामने उभर रही है नयी मुसीबत, पीएम मोदी ने भी जतायी चिंता

0
2675

भारत तेजी के साथ में विकास कर रहा है हर कोई काफी अधिक खुश है और लोग इस वजह से काफी कुछ बोलते करते हुए भी नजर आते है कि सब कुछ अच्छा होने के बाद में भी दिक्कते तो आएगी ही आएगी और इनसे जूझना भी देश को पड़ेगा क्योंकि अगर हम नही करेंगे तो फिर इस देश के लिए भला और कौन करेगा? बात अपने आप में ठीक भी है और इसी वजह से अभी की बात की जाये तो देश डिजिटल और बैंकिंग क्षेत्र में तगड़ी तरक्की कर रहा है लेकिन इसी के साथ में एक समस्या और भी खड़ी हो रही है.

देश में बढ़ रही ऑनलाइन धोखाधड़ी, पीएम मोदी ने कहा रोकना ही होगा
अभी हाल ही में पीएम मोदी ने पुलिस के बड़े अधिकारियों के साथ में बात की थी और उनकी बात का मुख्य केंद्र देश में बढ़ रहे साइबर फ्रॉड और ऑनलाइन धोखाधड़ी है.पीएम मोदी ने कहा कि ऑनलाइन क्षेत्रो में हो रही वित्तीय धोखाधड़ी एक बड़ी चुनौती बन गयी है. इसने अपराध को थानों से निकालकर के राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर की चुनौती बना दिया है. पुलिस को अब इसको रोकने के लिए नए तरीके से कुछ न कुछ इनोवेशन करने ही होंगे. सरकार भी इसके लिए कई कदम उठा रही है.

पिछले वर्षो में बढे है साइबर फ्रॉड, जनता को लगी करोडो की चपत
पिछले कुछ वर्षो में देश में साइबर फ्रॉड काफी अधिक बढे है. पुलिस के द्वारा कई शहरो से ऐसे फ्रॉड करने वालो की गिरफ्तारियां भी की गयी है जो लोग लोगो से यूपीआई और ओटीपी समेत कार्ड डिटेल्स चोरी करने जैसे माध्यमो के जरिये चोरी करते आ रहे है और ये अपने आप में काफी अधिक बड़ी बात है कि सरकार इसके ऊपर अब ध्यान देने लगी है.

हालांकि अब कई प्राइवेट प्लेयर्स को भी इस मामले में शामिल किया जा रहा है ताकि भारत में साइबर सिक्यूरिटी को बेहतर किया जाए. अगर ऐसा नही किया जाता है तो फिर सिर्फ सरकारी सिस्टम के भरोसे तो ऐसा कभी भी हो नही पायेगा और लोगो को अपने बैंक में रखी हुई पूँजी को बिना किसी गलती के ही गंवाना पड़ेगा.

नीतू सिंह नाम की एक महिला को किसी ने बैंक अधिकारी बनकर के फोन किया और उनसे बैंक की कुछ डिटेल ली जिसके बाद ऑनलाइन माध्यम से उनके लगभग डेढ़ लाख रूपये गायब कर दिए. पुलिस से संपर्क करने पर पुलिस ने सब कुछ ट्रैक किया और उनके लगभग 80 हजार रूपये उनको वापिस दिलवा दिये और बाकी पर प्रयास किया जा रहा है. देश में ऐसे कई केस है जो दिन ब दिन बढ़ते जा रहे है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here