अब जाकर मिला कश्मीरी पंडितो को इंसाफ, मोदी सरकार का 370 के बाद बड़ा फैसला

0
6480

वैसे तो कश्मीरी पंडित बहुत ही लम्बे समय से अपने लिए अधिकार की मांग कर रहे है क्योंकि ये लोग पिछले काफी समय से अधिकार प्राप्त कर नही पा रहे है क्योंकि कश्मीर में जिस तरह के हालात बने है उसके बाद में वहां की राजनीति में वहां के मूल के पंडितो का कोई भी अधिकार नही रह गया था. मगर अब क्योंकि केंद्र में उनके फेवर की सरकार आ गयी है तो फिर उनके लिए काफी सारी मदद है जो मिलने लगी है. अभी के हिसाब से चीजे उनके पक्ष में नजर आ रही है और हाल ही में एक फैसला भी हुआ है.

कश्मीर में विस्थापितों की वापसी जोरो पर, 5 जिले में हजारो को मिला आशियाना
कश्मीरी पंडित जो लोग कश्मीर से ही भगा दिए गये थे उन लोगो को अब वापिस लाया जा रहा है और ये अपने अंतिम चरण में पहुँच चुका है जिसके अंतर्गत अब तक कुल 3841 कश्मीरी पंडित युवा वापिस लौट आये है और वो उस जगह पर वापिस जाकर के रह रहे है जहाँ से उनको भगा दिया गया था. इनके लिए 6000 ट्रांजिट आवास इकाईयों को मंजूरी दी है.

इनके ऊपर अब तक कुल 920 करोड़ का खर्च आया है और इसका पूरा जिम्मा अभी उपराज्यपाल ने उठा रखा है. यहाँ पर सरकार की तरफ से इनकी सुरक्षा के लिए भी पूरी व्यवस्था की जा रही है ताकि कश्मीर जैसी जगह पर अगर कोई भी युवा वापिस रहने जा रहे थे तो फिर उनको लेकर के कोई भी रिस्क न हो. इनकी कॉलोनी आदि भी पूरी तरह से अलग होगी ताकि बाकी समुदाय के लोग इनको कही से भी परेशान न कर सके.

अभी और भी काम है अधूरे
हालांकि अभी काम शुरू हो चूका है और कई कश्मीरी पंडित वापिस लौटकर के आ रहे है लेकिन अभी भी बहुत सारे ऐसे काम है जो अधूरे रह गये है. कही न कही इसके कारण से लोगो को उम्मीद जगी है. जैसे अभी लाखो लोगो की वापसी बाकी है, कई मंदिर फिर से बनाये जाने है और कश्मीर में पहले की ही तरह एक शान्ति स्थापित की जानी है.

जब मोदी सरकार ने 370 को हटाया था तब अधिकतर लोगो को इस बात की उम्मीद हो गयी थी कि अब पंडितो की वापसी जल्द ही होगी और ये अब इतनी तीव्रता से होगी ये तो शायद किसी ने नही सोचा था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here